यूट्यूब गो: वीडियो देखो, मजे उड़ाओ, डाटा नहीं!

Written By:

भारतीय यूज़र्स को ध्यान में रखते हुए गूगल ने एक नई एप यूट्यूब गो लॉन्च की है। इस एप के जरिए अब यूज़र्स यूट्यूब की ऑफलाइन वीडियोज़ को आराम से देख पाएंगे। साथ ही बिना इंटरनेट के वीडियो शेयर भी की जा सकती हैं। इस एप को खासकर उन इलाकों के लिए पेश किया गया है जहां पर कनेक्टिविटी की सुविधा कम है।

1जीबी की कीमत में 10जीबी डाटा, आ गए यूज़र्स के अच्छे दिन

यूट्यूब गो: वीडियो देखो, मजे उड़ाओ, डाटा नहीं!

इस एप को खासकर भारतीय यूज़र्स के लिए बनाया गया है। गूगल ने अपने भारत में हुए इवेंट के दौरान इस एप को लॉन्च किया है। यूट्यूब गो में स्लाइडशो के रूप में वीडियो प्रीव्यू फीचर भी दिया गया है। जिससे आप वीडियो में क्या है इसक आईडिया ले सकते हैं। साथ ही आप इसे डाउनलोड करने के से पहले इसका साइज़ भी चुन सकते हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

मजे उड़ाओ, डाटा नहीं

यूट्यूब के वीडियो देखने और शेयर करने का मजा अब आप बिना डाटा खर्च कर किए ले सकते हैं। यूट्यूब गो में भारतीय यूज़र्स को ध्यान में रखकर बनाई गई है।

सर्च करें और देखें

आप इस एप में अपनी पसंद का कोई भी वीडियो सर्च कर सकते हैं, और नए नए वीडियो का मजा ले सकते हैं।

डाटा संभाले

वीडियो को डाउनलोड करने से पहले आपको इसमें साइज़ का विकल्प मिलता है। जिसमें आप देख सकते हैं कि आप किस साइज़ का वीडियो सेव करना चाहते हैं, ताकि आपका डाटा ज्यादा खर्च न हो।

ख़राब कनेक्शन पर वीडियो नहीं

आप इस एप के जरिए वीडियो को ख़राब कनेक्शन के बाद भी सेव कर और बफ्फरिंग के बिना वीडियो का आनंद लें।

जल्द आ रहा है एप

आप इसमें साइन अप करें और सबसे पहले पता करें कि यह एप कब लॉन्च होगा। यहां क्लिक करें और चेक करें।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Read more about:
English summary
Youtube Go: Now Watch and Share Youtube Video Without Draining Your Mobile Data Read more in hindi
Please Wait while comments are loading...
आरबीआई के ऐलान से पहले ही बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिया अपने ग्राहकों को तोहफा
आरबीआई के ऐलान से पहले ही बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिया अपने ग्राहकों को तोहफा
दो साल के बेटे को रोज घंटो रेत में दबाती है मां, वजह रुला देने वाली
दो साल के बेटे को रोज घंटो रेत में दबाती है मां, वजह रुला देने वाली
Opinion Poll

Social Counting