लाखों में मिलती थी हार्डड्राइव, यकीन न हो तो खुद ही देख लीजिए

Written By:

कुछ सालों पहले कंप्‍यूटर तो दूर की बात है उसके पार्ट खरीदना भी सभी के बस में नहीं थे, मार्केट में अगर आप पीसी लेने जाते हैं तो जरूरत के हिसाब से 20 हजार की शुरुआती कीमत में आपका पूरा पीसी तैयार हो जाएगा। लेकिन कंप्‍यूटर की शुरुआती दिनों में उसमें लगने वाली हार्डडिस्‍क की कीमत ही लाखों में हुआ करती थी, वहीं इनका स्‍टोरेज साइज भी एक पिक्‍चर साइज से छोटा होता था।

40 गुना फास्‍ट स्पीड से इंटरनेट देग गूगल

1985 में 40 एमबी की हार्डडिस्‍क की कीमत $40,000 हुआ करती थी। जबकि आज 200 रुपए में 4 जीबी तक की पेन ड्राइव मिल जाती है। चलिए उन दिनों में आपको ले चलते हैं जब हार्डडिस्‍क की मैमोरी पेन ड्राइव से भी कम हुआ करती थी साथ ही इनकी कीमत लाखों में होती थी।

हॉलीवुड जैसा लुक चाहिए तो घर ले आइए ये 10 कूल गैजेट्स..!

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

1 जीबी हार्डडिस्‍क

मानें या न मानें 1981 में जब पहली 1 जीबी की हार्डडिस्‍क लांच की गई थी तो उसकी कीमत सिर्फ लखपति ही दे सकता था। इसकी कीमत 81,000 डॉलर थी।

5 एमबी कंप्यूटर ड्राइव

1956 में 5एमबी की इस कंप्यूटर ड्राइव की कीमत काफी महंगी थी।

40MB हार्ड ड्राइव

1985 में एक 40एमबी की हार्ड ड्राइव आपको करीब 40,000 डॉलर की पड़ती। इसे खरीदना आसान नहीं था।

10MB Hard Disk

यह एक माइक्रो साइज़ डिस्क होती थी, जिसमें अधिक स्टोरेज था, स्पीड थी और सपोर्ट भी। इसकी कीमत भी काफी अधिक थी।

15MB हार्ड डिस्क ड्राइव

80 के दशक में 15एमबी की हार्ड डिस्क ड्राइव करीब 2495 डॉलर की थी।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
There was a time when hard drive was available in lac rupee amount. It was hard to get one. Now a 4GB pendrive is available in just 200 rupees.
Please Wait while comments are loading...
MCD Election 2017: फेसबुक पर अलका लांबा ने की इस्तीफे की पेशकश तो लोगों ने लताड़ा
MCD Election 2017: फेसबुक पर अलका लांबा ने की इस्तीफे की पेशकश तो लोगों ने लताड़ा
अरविंद केजरीवाल की 5 बड़ी गलतियां, जिन्होंने डुबोई AAP की लुटिया
अरविंद केजरीवाल की 5 बड़ी गलतियां, जिन्होंने डुबोई AAP की लुटिया
Opinion Poll

Social Counting