लैपटॉप से मोबाइल पर कैसे चलाएं इंटरनेट

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की मुहीम डिजिटल इंडिया का लक्ष्य है प्रत्येक भारतीय तक तकनीक को बढ़ाया जाए। वैसे तो पहले से ही शहर से गांव तक मोबाईल, इंटरनेट, कंप्यूटर, लैपटाॅप का उपयोग हो रहा है लेकिन डिजिटल इंडिया इसे और अधिक बढ़ावा देगा। इसके मुख्य हथियार बनेंगे-मोबाईल, लैपटॉप व इंटरनेट।

पढ़ें: एंड्रायड यूजर के काफी काम आएंगी ये 10 ट्रिक्‍स

वैसे तो हम सभी मोबाइल में इंटरनेट का उपयोग करते ही हैं पर कुछ कार्य केवल लैपटॉप पर ही किए जा सकते हैं। ऐसे में, यदि आपके पास ब्रांडबैंड, वाई-फाई व डॉगल नहीं है या आप ऐसी जगह बैठे हैं जहां ऐसी कोई सुविधा नहीं है तो भी आप घबराएं नहीं। अब आप मोबाईल से भी लैपटॉप में इंटरनेट चला सकते हैं।

पढ़ें: कम हो गई इन 10 स्‍मार्टफोन्‍स की कीमत

मोबाईल में टीथरिंग द्वारा आप दो तरह से इंटरनेट चला सकते हैं। यानी आप चाहें तो ब्लूटूथ के द्वारा अपने मोबाइल से लैपटॉप में इंटरनेट चला सकते हैं या फिर डेटा केबल को अपने लैपटॉप में कनेक्ट करके इंटरनेट चला सकते हैं। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि यह काम कितना आसान है। बस इसके लिए आपके फोन में जीपीआरएस या इंटरनेट कनेक्टीविटी एक्टीवेट होनी चाहिए।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने के बाद अपने मोबाइल को डेटा केबल से लैपटॉप में कनेक्ट कर दें।

सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने के बाद अपने मोबाइल को डेटा केबल से लैपटॉप में कनेक्ट कर दें।

मोबाइल कनेक्ट करने के बाद लैपटॉप में सेव मोबाइल सॉफ्टवेयर को खोलें।

सॉफ्टवेयर में सभी सेटिंग करें जैसे भाषा, सर्विस प्रोवाइडर और कंट्री आदि।

सॉफ्टवेयर में "Connect to Internet" ऑप्शन ढूंढें।

"Connect to Internet" ऑप्शन मिलने पर उस पर क्लिक करे। अब मोबाइल पीसी से जोड़ जाएगा।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
Many smartphones or other devices do not support the same network configuration that is easily shared from laptop to laptop. This guide can show you a free way to share your network connection with these devices without also needing to install any third-party software
Please Wait while comments are loading...
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
Opinion Poll

Social Counting