एंड्राइड फोन का पासवर्ड भूल गए? ऐसे करें अनलॉक!

Written By:

अपने एंड्रायड फोन को सुरक्षित रखने के लिए हर स्मार्टफोन यूज़र पासवर्ड या अनलॉक पैटर्न का इस्तेमाल करता है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि हम अपने फोन का पासवर्ड भूल जाते हैं। ऐसा इसलिए भी हो सकता है क्योंकि इन दिनों आपको हर चीज में पासवर्ड सेट करना पड़ता है।

एंड्रायड यूज़र्स को ऐसे मिलेगा जियो सिम और ऑफर

खैर अब यदि पासवर्ड भूल जाएं तो ये एक अन्य मुसीबत है। लेकिन आपको परेशान होने की जरुरत नहीं है क्योंकि हम आपको बता रहे हैं एंड्रायड फोन अनलॉक करने का बेहद आसान तरीका। जिसके जरिए आप फोन को पासवर्ड भूल जाने के बाद अनलॉक कर सकते हैं। इसके लिए आपको फॉलो करने होंगे नीचे स्लाइडर में दिए ये स्टेप्स-

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

एंड्रायड डिवाइस मैनेजर

आपको सबसे पहले कंप्यूटर पर इंटरनेट ब्राउज़र में एंड्रायड डिवाइस मैनेजर पर जाना होगा। जिसके लिए आपको google.com/android/devicemanager वेबपेज पर जाना है।

लॉग इन

अब आपको उस आईडी से लॉग इन करना है जिसका इस्तेमाल आपने अपने एंड्रायड फोन को सेटअप करने के लिए किया था।

डिवाइस को चुनें

आपको इसके बाद एंड्रायड डिवाइस मैनेजर के इंटरफ़ेस से डिवाइस को चुनना है जिसका लॉक पैटर्न या पासवर्ड आपको बदलना है।

लॉक चुनें

अब आप लॉक सेलेक्ट करें। ऐसा करने के बाद एक पॉपअप विंडो खुलेगा। यहां पर एक अस्थाई पासवर्ड डालें। इसके बाद फिर से 'Lock' पर क्लिक करें।

नए विकल्प

अब आपको रिंग, लॉक और इरेज़ बटन के नीचे वाले बॉक्स में एक मैसेज लिखा हुआ नज़र आएगा।

अनलॉक करें

अब आप अपने फोन पर एक पासवर्ड फील्ड देख पाएंगे। इसमें कुछ देर पहले बनाए गए अस्थाई पासवार्ड का इस्तेमाल करें। ऐसा करके आप अपने फोन को अनलॉक करने में सफल रहेंगे।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
How to unlock android smartphone if you have forgotten the password hindi. for more go to hindiGizbot.
Please Wait while comments are loading...
एक भैंस घबराई हुई भागी जा रही थी तो चूहे ने क‍िया सवाल
एक भैंस घबराई हुई भागी जा रही थी तो चूहे ने क‍िया सवाल
फेमस एक्ट्रेस को हॉस्पिटल में भर्ती कर बिल भरने के डर से बेटा भागा
फेमस एक्ट्रेस को हॉस्पिटल में भर्ती कर बिल भरने के डर से बेटा भागा
Opinion Poll

Social Counting