क्‍या आप अपने मोबाइल को एस4 में बदलना चाहते हैं?

Posted by:

मोबाइल को रूट करने के बारे में आप सभी ने सुना होगा लेकिन क्‍या आप जानते हैं आखिर मोबाइल रूट करने का मतलब क्‍या होता है। हम जब भी कोई नया फोन खरीदते हैं तो उसमें कुछ एप्‍लीकेशन पहले से इंस्‍टॉल होती हैं। हम उन एप्‍लीकेशनों का प्रयोग तो कर सकते हैं लेकिन उनमें कोई बदलाव नहीं कर सकते। इसके अलावा फोन में जो भी सॉफ्टवेयर इंस्‍टॉल है उसमें भी कोई छेड़खानी नहीं कर सकते लेकिन अगर आप अपने फोन को रूट कर दें तो आप अपने फोन में कुछ भी बदलाव कर सकते हैं यानी एक तरह से आप अपने फोन को हैक कर लें। फोन रूटिंग की मदद से आप अपने फोन की प्रोसेसिंग स्‍पीड को बढ़ा सकते हैं, लेकिन इससे फोन के प्रोसेसर पर काफी दवाब पड़ता है।

क्‍या आप अपने मोबाइल को एस4 में बदलना चाहते हैं?

फोन रूट करने से नुकसान

फोन रूट करने के बाद आपके फोन की वारंटी और गारंटी दोनों चली जाती है फिर चाहे आपने वो फोन 1 घंटा पहले क्‍यों न खरीदा हो।
फोन रूट करना एक तरह से अपने फोन हैक करने के बराबर है जो आपके फोन को हमेशा के लिए खराब भी कर सकता है।
कोई भी आर्थोराइज्‍ड शॉप आपका फोन रूट नहीं कर सकती।

अगर आप गूगल प्‍ले पर पूरा दिन एप्‍लीकेशन ढूड़ने में ही लगा देते हैं तो फोन रूट करने के बाद आपको अपना समय बर्बाद करने की कोई जरूरत नहीं। एक बार फोन रूट करने के बाद आप कई नई एप्‍लीकेशन भी एक्‍सेस कर सकते हैं। फोन रूट करने के कई तरीके होते हैं जैसे आप नेटर्वक स्‍पूफर की मदद से किसी का वाईफाई पासवर्ड भी चुरा सकते हैं हालाकि ये गलत है। लेकिन टेस्‍टिंग के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता है।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
Please Wait while comments are loading...
जीएसटी का इंतजार हुआ खत्म, वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने कहा 1 जुलाई से हो जाएगा लागू
जीएसटी का इंतजार हुआ खत्म, वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने कहा 1 जुलाई से हो जाएगा लागू
प्राइम मेंबरशिप के तहत एक नहीं कई प्लान ला रहा है रिलायंस जियो, ये रही पूरी लिस्ट
प्राइम मेंबरशिप के तहत एक नहीं कई प्लान ला रहा है रिलायंस जियो, ये रही पूरी लिस्ट
Opinion Poll

Social Counting