ऑनलाइन शॉपिंग से पहले जान लें ये बातें, वरना भट्टा बैठ जाएगा

Written By:

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग का चलन जोरों पर है। अगर आप भी ऑनलाइन शॉपिंग करना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले इसकी पूरी प्रक्रिया को समझना होगा, यह प्रक्रिया बिल्‍कुल भी जटिल नहीं है। बेहद सरल प्रक्रिया के माध्‍यम से आप अपने मनपसंद प्रोडक्‍ट को खरीद सकते हैं।

माइक्रोएसडी कार्ड खरीदते हुए न करें ये गलतियां, पड़ सकती हैं भारी!

ऑनलाइन खरीददारी को करने के लिए कई बातों को ध्‍यान में रखना आवश्‍यक होता है और उससे ज्‍यादा जरूरी कुछ शब्‍दों की जानकारी होना होता है। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ शब्‍दों के बारे में:

अपने स्लो हो रहे स्मार्टफोन की स्पीड को दीजिए धक्का

प्रोडक्‍ट और ऑर्डरिंग शर्तें :

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

#1

प्री-ऑर्डर करने पर आपको प्रोडक्‍ट तुरंत मिलता नहीं है लेकिन उसका ऑर्डर आपकी ओर से कन्‍फर्म हो जाता है। आपके द्वारा उस प्रोडक्‍ट के लिए भुगतान भी हो जाता है लेकिन यह मिलता बाद में है। जैसे- कोई फोन आने वाला हो तो उसे प्री-ऑर्डर कर दें, ताकि वह लांच होने पर मिल सकें।

#2

 वो प्रोडक्‍ट जो कि कम्‍पनी के द्वारा किसी खामी को सही करने के बाद बेचे जाते हैं। टेक्‍नीकल प्रोडक्‍ट, अक्‍सर इस श्रेणी में बिकते हैं इनमें कोई समस्‍या नहीं होती है। बस ये फ्रेश पीस नहीं होते हैं।

#3

जब कोई ऑर्डर, ऑउट ऑफ स्‍टॉक हो जाता है तो उसे बैकऑर्डर कहा जाता है।

#4

जिस प्रोडक्‍ट को आपने ऑर्डर किया है उसे देखा जा सकता है कि वो कहां तक पहुँचा है, इसे ही ऑनलाइन ट्रैकिंग कहा जाता है।

#5

कुछ प्रोडक्‍ट जैसे - वीडियो गेम, बुक, म्‍यूजिक या सॉफ्टवेयर को आप डिजीटल डाउनलोड भी कर सकते हैं।

#6

जब आप एक से अधिक प्रोडक्‍ट का ऑर्डर देते हैं और ऑर्डर को अलग-अलग भेज दिया जाता है। मान लीजिए, आपने जूते, मोजे और पैंट को पार्शियल शिपमेंट से भेजा, तो आपको जूते और मोजे एक साथ मिलेंगे, लेकिन पैंट अलग से मिलेगा। ऐसा अक्‍सर होता है, अगर ऑर्डर को डिफरेंट मर्चेंट से ऑर्डर किया जाता है।

भुगतान और मौद्रिक शर्तें -

मोबाइल द्वारा भुगतान किए जाने पर मोबाइल पेमेंट कहा जाता है। स्‍मार्टफोन और टैब में ये खूबी दी गई है। क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, पेटीएम आदि से भुगतान करना काफी आसान हो गया है।

#2

जब आप इनवल्‍प रखते हैं कि आपको कितना क्‍या खरीदना है तो आपका खर्चा कम होता है। कपड़े, रेस्‍टोरेंट और एंटरटेनमेंट आदि के लिए महीने में अलग से राशि को निर्धारित करने से खर्चा कम होगा और आप फालतू का सामान खरीदने से बच जाएंगे।

#3

यह एक प्रकार डिजीटल करेंसी है जो इलेक्‍ट्रॉनिक रूप में एक से दूसरे तक भेजी जा सकती है। इसमें बीच में कोई बैंक या माध्‍यम नहीं होता है। इसका इस्‍तेमाल अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भी होता है। इससे ऑनलाइन शॉपिंग करना आसान होता है।

सुरक्षा और प्राईवेसी शर्तें -

जिस भी वेबसाइट से शॉपिंग करें, वो प्रमाणित होनी चाहिए। आप अपनी व्‍यक्तिगत जानकारी के अलावा वित्‍तीय जानकारी भी दे देते हैं, इस बात का ध्‍यान रखें। फालतू की साइट से सामान खरीदने से बचें।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
15 crucial terms an online shopper must know.
Please Wait while comments are loading...
वट सावित्री पूजा: पिया की लंबी उम्र के लिए व्रत
वट सावित्री पूजा: पिया की लंबी उम्र के लिए व्रत
व्हाट्सएप ग्रुप में कुछ सदस्य सरकारी स्कूल के छात्र की तरह होते हैं
व्हाट्सएप ग्रुप में कुछ सदस्य सरकारी स्कूल के छात्र की तरह होते हैं
Opinion Poll

Social Counting