10 करोड़ लोगों ने कराई मोबाइल पोर्टेबिलिटी

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) सेवा का उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं की संख्या 10 करोड़ हो गई। यह जानकारी भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने गुरुवार को दी। एमएनपी सेवा देश में 20 जनवरी 2011 को शुरू की गई थी।

इसके तहत मोबाइल दूरसंचार ग्राहकों को यह सुविधा दी गई कि वह समान सेवा क्षेत्र में अपना पुराना मोबाइल नंबर बरकरार रखते हुए भी उसी नंबर पर दूसरी मोबाइल दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी की सेवा ले सकता है, चाहे वह सेवा किसी भी प्रौद्योगिकी की क्यों न हो। ट्राई ने यहां एक बयान में कहा कि इस साल से कारपोरेट पोर्टिग भी शुरू की गई है।

10 करोड़ लोगों ने कराई मोबाइल पोर्टेबिलिटी

इसके तहत कंपनी के नाम पर लिए गए मोबाइल नंबर के मामले में भी एमएनपी सेवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए हालांकि प्राधिकृत प्रतिनिधि से पोर्टिग अनुरोध को अनुशंसित कराना होगा।

Please Wait while comments are loading...
पाक की पूर्व पीएम बेनजीर भुट्टो की 'सीक्रेट सेक्‍स लाइफ' का सच
पाक की पूर्व पीएम बेनजीर भुट्टो की 'सीक्रेट सेक्‍स लाइफ' का सच
महिला ने एक साथ दिया चार बच्‍चों को जन्‍म, लोग कह रहे हैं ईश्‍वर का चमत्‍कार
महिला ने एक साथ दिया चार बच्‍चों को जन्‍म, लोग कह रहे हैं ईश्‍वर का चमत्‍कार
Opinion Poll

Social Counting