रिलायंस जियो और एयरसेल की जोड़ी से यूज़र्स की बल्ले-बल्ले

Written By:

रिलायंस जियो के नाम से टेलिकॉम कंपनियों के पसीने छूटने लगे है, सुबह के अखबार में जियो से जुड़ी एक खबर आपको जरूर मिल जाएगी, कुछ ही दिन पहले रिलायंस कंम्‍यूनिकेशन ने एयरसेल के साथ विलय कर लिया है जिसके बाद जो नई कंपनी बनी है वो अब टेलिकॉम की दुनिया की चौथी सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है।

पढ़ें: इन टॉप 10 चाइनीज़ स्मार्टफोन पर यूज़ करें रिलायंस जियो 4जी सिम!

बीएसएनएल के साथ भी रिलायंस ने अपने जियो नेटर्वक को मजबूत करने के लिए कुछ दिनों पहले एक करार किया था। आरकॉम में एयरसेल से पहले सिस्‍तेमा का भी विलय हो चुका है। अब कंपनी की असैट वैल्यूशन बढ़कर 65 हजार करोड़ रुपये हो चुकी है। इस विलय के बाद टेलिकॉम इंडस्‍ट्री में कई बदलाव होंगे लेकिन इसके साथ ही उपभोक्‍ताओं को भी कई फायदे मिलेंगे।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

नई कंपनी बनेगी

विलय के बाद जो नई कंपनी बनेगी उसका नाम मर्डेको होगा, साथ ही दोनो कंपनियो के ऊपर जो कर्ज है वो भी कम होगा। करार के बाद आरकॉम का कर्ज 20 हजार करोड़ रुपए घटेगा वही दूसरी ओंर एयरसेल का कर्ज 4000 करोड़ रुपए तक घट जाएगा।

कॉलिंग और नेट पैक सस्‍ते होंगे

डील के बाद एयरसेल और जियो दोनों के नेट पैक सस्‍ते होंगे साथ ही एयरसेल और जियो दोनों के ग्रहको को अच्‍छी इंटरनेट स्‍पीड भी मिलेगी। इसके अलावा एयरसेल के उपभोक्‍ताओं को 4जी की सुविधा भी मिलेगी जो पहले नहीं थी।

दोनो कंपनियो की बराबर हिस्‍सदारी होगी

डील के बाद बनी नई कंपनी मर्डेको में रिलायंस और एयरसेल की 50-50 फीसरी हिस्‍सेदारी होगी साथ ही दोनों के बार्ड मेंबर भी बराबर होंगे।

दूसरी कंपनियों के लिए बड़ी मुसीबत

नई डील के बाद बनी कंपनी टेलिकॉम सेक्‍टर में चौथे नंबर पर काबिज हो चुकी है यानी तीसरे नंबर की कुर्सी पर अब सभी की नजरे हैं, जिसमें इस समय 17 प्रतिशत शेयर के साथ आईडिया का कब्‍जा है। आकड़ो के मुताबिक आइडिया के पास 17.5 करोड़ सब्‍सक्राइबर्स है वहीं रिलायंस कम्‍यूनिकेशन के पास 11 करोड़ सब्‍सक्राइबर है। 25.1 करोड़ सब्‍सक्राइबर्स के साथ एयरटेल भारत में नंबर 1 पर काबिज है। जबकि एयरसेल के पास 8.4 करोड़ सब्‍सक्राइबर्स है


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

रिलायंस जियो स्‍पीड टेस्‍ट 

Read more about:
English summary
Days after Reliance Jio launch and ahead of the biggest spectrum auction that starts on 1 October, the Indian telecom space has seen the biggest merger yet of the wireless operations of Reliance Communications with Aircel.
Please Wait while comments are loading...
रॉयल थी जयललिता की लाइफ स्‍टाइल, 10000 साड़ियां, 750 चप्‍पलें, 28 KG सोना और...
रॉयल थी जयललिता की लाइफ स्‍टाइल, 10000 साड़ियां, 750 चप्‍पलें, 28 KG सोना और...
सोने की चमक और हुई कम, बाजार में गिर गए दाम
सोने की चमक और हुई कम, बाजार में गिर गए दाम
Opinion Poll

Social Counting