मंगलयान ने 1 लाख किलोमीटर की दूरी की तय

Posted by:

भारत के मंगलयान ने मंगलवार सुबह सफलतापूर्वक एक लाख किलोमीटर का कक्षा उन्नयन हासिल कर लिया। अंतरिक्ष एजेंसी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधानसंस्थान (इसरो) ने एक बयान में कहा, "मंगल ग्रह की परिक्रमा करने के लिए भेजे गए यान के चौथे अनुपूरक कक्षा उन्नयन की प्रक्रिया 12 नवंबर (मंगलवार) को भारतीय समयानुसार पांच बजकर तीन मिनट और पचास सेकेंड पर शुरू की गई। अब यान की दूरी धरती से 78,276 किलोमीटर से बढ़कर 1,18,642 किलोमीटर हो गई है।

पढ़ें: धरती के करीब कैसे आ गए ये ग्रह

मंगलयान का वेग 124.9 मीटर प्रति सेकेंड बढ़ा दिया गया है। इसरो की पूर्व निर्धारित योजना में शामिल छह उपायों के अलावा मंगलवार को अतिरिक्त उपाय का प्रयोग किया गया जब सोमवार सुबह यान की कक्षा बढ़ाने की गतिविधि में अड़चन पेश आई। मंगलयान की तकनीकी प्रणाली के संचालन के दौरान ईंधन के मोटरों को बंद कर दिया गया था जिसके कारण सोमवार को यान अपने निर्धारित स्तर तक नहीं पहुंच पाया।

पढ़ें: इस फैक्‍ट्री में बनते हैं एलजी के स्‍मार्टफोन

मंगलयान ने 1 लाख किलोमीटर की दूरी की तय

इससे पहले भारत के मंगलग्रह अभियान को सोमवार सुबह एक परेशानी का सामना करना पड़ा था। मंगल ग्रह मिशन के आधिकारिक फेसबुक पेज के अनुसार मंगलयान का चौथी बार किया गया कक्षा उन्नयन लक्ष्य से कम हो रहा था। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा फेसबुक पेज पर कहा गया था, इस बार मोटरों को चालू करके मंगलयान को 35 मीटर/सेकेंड की गति प्रदान की गई है।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
Please Wait while comments are loading...
MCD Election 2017: फेसबुक पर अलका लांबा ने की इस्तीफे की पेशकश तो लोगों ने लताड़ा
MCD Election 2017: फेसबुक पर अलका लांबा ने की इस्तीफे की पेशकश तो लोगों ने लताड़ा
अरविंद केजरीवाल की 5 बड़ी गलतियां, जिन्होंने डुबोई AAP की लुटिया
अरविंद केजरीवाल की 5 बड़ी गलतियां, जिन्होंने डुबोई AAP की लुटिया
Opinion Poll

Social Counting