81 हजार महिलाओं के किसी और से भी हैं रिश्‍ते

शादीशुदा जीवन में अपने पार्टनर की पीठ पीछे प्रेम प्रसंग करना न तो नई बात है और न ही किसी सेक्स विशेष पर पर इसको लागू किया जा सकता है। बढ़ती तकनीक के युग में इंटरनेट के आगमन के बाद से ऐसे अवैध रोमांस में लोग अधिक लिप्त होने लग गए हैं। इसका फायदा उठाकर कई बेवसाइट्स ने इसे कमाई का धंधा बना लिया।

पढ़ें: आईए सीखते हैं यू ट्यूब में जादू करने के कुछ तरीके

उन्हें महसूस होने लगा है कि इसमें कोई बंदिश नहीं है और यह संबंध भी किसी को पता नहीं चलेगा। उनकी ऐसी सोच गलत साबित हो गई। गत माह अपने जीवनसंगी को धोखा देने वाली कनाड़ा की डेटिंग साइट एशले मेडिसन डाॅट काॅम को हैग कर लिया गया है और उनके मेंबर्स की डिटेल चोरी कर ली गई। इसे 18 अगस्त को ऑनलाइन जारी भी कर दिया गया है।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

शादीशुदा लोग के लिए तैयार यह बेबसाइट डेंटिग करने के लिए पार्टनर ढूंढती है। इसकी टैगलाइन है-लाइफ इज शॉर्ट, हैव एन अफेयर अर्थात् जिंदगी छोटी है, खूब बनाएं रिश्ते। मीडिया खबरों के अनुसार, ‘‘इंपैक्ट टीम'' नामक हैकर ने इस जानकारी को चुराकर 18 अगस्त को ऑनलाइन सार्वजनिक कर दिया। इसके बाद से विश्वभर में हड़कम्प मचा हुआ है। हमारे देश में भी अनेक वीवीआईपी परिवार इस जानकारी के खुलने से सहमे हुए-से हैं।

चूंकि डेटिंग की चोट कभी भी सबके सामने आने का डर उनको खाए जा रहा है। 2005 में बनी एशली मेडिसन डॉट काम एक वीडियो शेयरिंग बेवसाईट होने से इसपर अनेक यूजर्स द्वारा बहुत-से विवादित वीडियो भी अपलोड किए हुए हैं। शुरू में इसे नेक इरादे से बनाया था, पर अब यह विवादित हो चुकी है। इसमें लोगों से उनके काम व परिस्थितियों की भी जानकारी ले ली जाती थी जैसकि वे कब, कहां और किस स्थि‌ति में अपने पार्टनर से मिलना पसंद करेंगे।

भुगतान के बाद भी आपकी सारी जानकारी डिलीट कर दी जाएगी इस पर भी विश्वास करना कठिन है। पर ये बात भी आश्चर्यजनक है कि इस साइट पर यूजर्स किसी भी झूठे नाम से बिना ईमेल एड्रेस के अकाउंट बना सकते हैं। आगे क्या होगा यह तो कहना मुश्किल है लेकिन अभी तक तो इस साइट के हैकरों ने लाखों हजारों परिवारों की रातों की नींद उड़ा दी है। तो यदि आप भी ऐसे किसी गलत केस में शामिल हैं तो सुधर जाए नहीं तो बढ़ती तकनीक आपके कारनामों को सबके सामने उजागर कर देगी चूंकि गलत तो आखिर गलत ही होता है न भाई।

अब आपको स्पष्ट हो चुका होगा कि इस तरह से लगभग 81 हजार वैवाहिक भारतीय स्त्रियों के अपने पति के साथ-साथ अन्य किसी से भी ‘‘संबंध'' हैं। सवा सौ करोड़ वाले हमारे देश में यह आंकड़ा जरूर छोटा कहा जा सकता है पर किसी को भी हैरानी में डालने लायक भी है। इतना ही नहीं आपको हम बता दें कि यदि आपने एक बार इस साइट पर रजिस्ट्रेशन करावा लिया और अब आप इसके यूजर्स बन चुके हैं पर अब इससे छुटकारा पाना चाहते हैं तो आपको अपने अकाउंट और जानकारी को डिलीट करवाने हेतु 19-20 डॉलर की राशि देनी पड़ती है।

आपको बताते चले कि एशले मेडिसन साइट पर बेनामी यूजर्स की संख्या 3,88,55,000 है। आपको जानकर हैरानी होगी कि हमारे देश के 2.7 लाख लोग इस साइट के उपयोगकत्र्ता हैं। ये यूजर्स भी लगभग डेढ़ साल में ही साइट से जुड़े हैं। यही कारण है कि भारत में निरंतर बढ़ती प्रसिद्ध की वजह से इस साइट के हिंदी वर्जन को भी लॉन्च करने की तैयारी पूरी कर ली गई है।इससे भी बढ़कर आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि एशले मेडिसन साइट से जुड़े लोगों में से 30 प्रतिशत महिला यूजर्स हैं।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
An attack on Ashley Madison — the adult dating site meant for facilitating discreet extramarital affairs — has resulted in data from its millions of users being published online.
Please Wait while comments are loading...
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
लग्जरी लाइफ के लिए बनी लेडी डॉन की थी जेल में भी ऐश
लग्जरी लाइफ के लिए बनी लेडी डॉन की थी जेल में भी ऐश
Opinion Poll

Social Counting