ये जूते नहीं बल्‍कि जूतों वाला फोन है

Posted by:

हम सभी जूतों को पहनने के लिए यूज करते हैं लेकिन क्‍या कभी आपने जूते बात करने के लिए प्रयोग किया हैं। जहां एक ओंर गूगल ग्‍लास और पानी से चलने वाली कारें बन रहीं हैं वहीं दूसरी ओंर जूतों में फोन का कांसेप्‍ट निकाला जा रहा है।

डिजाइनर सीन माइल्‍स ने ऐसे जूते बनाए हैं जिसमें फोन का फीचर दिया गया है। यानी आप जूतों को पहन भी सकते हैं और जरूरत पड़ने पर बात भी कर सकते हैं। इन जूतों को बनाने वाले डॉगल्‍स ने बताया ऐसे जूते बनाना उनके लिए किसी चैलेंज से कम नहीं था पहले तो उन्‍हें लगा ये काफी मुश्‍किल काम है

क्‍योंकि फोन जहां इतना सेंसिटिव होता है वहीं पूरे शरीर का भार सहने वाले जूतों में इन्‍हें फिट करना चुनौती भरा काम है लेकिन आखिरकार उन्‍होंने इसे कर दिखाया। अभी ये जूते केवल प्रदर्शनी के लिए लगाए गए हैं लेकिन जल्‍द ये बाजार में भी मिलने लगेंगे।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन

जूतों वाला फोन


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Please Wait while comments are loading...
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
Opinion Poll

Social Counting