चाइना में इंटरनेट कैफे हो रहे हैं बंद

चाइना में इंटरनेट कैफों की संख्‍या में भारी कमी देखी जा रही है जिसका सबसे बड़ा कारण लोगों के घरों में ब्राड बैंड की संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी को माना जा रहा है। ये कमी आठ सालों में पहली बार देखी जा रही है। इसका खुलासा सरकार ने किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने शनिवार को संस्कृति मंत्रालय द्वारा इंटरनेट बार पर जारी वार्षिक रिपोर्ट के हवाले से कहा, 2012 के अंत तक देश में 136,000 साइबर बार थे। साल दर साल के आधार पर इसमें 6.9 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

चाइना में इंटरनेट कैफे हो रहे हैं बंद

रिपोर्ट के अनुसार, इंटरनेट बार का राजस्व 13.2 प्रतिशत घटकर 8.7 अरब डॉलर हो गया। माना जा रहा है कि घरों में ब्रॉडबैंड की पहुंच और मोबाइल इंटरनेट और संचालन खर्च में बढ़ोतरी ने इंटरनेट बार के कारोबार पर बुरा असर डाला। रिपोर्ट के अनुसार, इंटरनेट बार में लोगों की पहुंचने की मुख्य वजह ऑनलाइन गेम और संगीत है।

रिपोर्ट में इंटरनेट बार को अपना कारोबार बढ़ाने के लिए अपना संचालन सुधारने, गेम रूम और कैफे को संघटित करने का सुझाव दिया गया है। चीन में 18 वर्ष से कम उम्र के व्यक्तियों को इंटरनेट बार में जाने की मनाही है। चाइना उन देशों में से एक है जो इंटरनेट के मामले में सबसे ज्‍यादा विकसित माने जाते हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
Please Wait while comments are loading...
यूपी चुनाव: सपा-कांग्रेस के साथ महागठबंधन में शामिल नहीं होगी आरएलडी
यूपी चुनाव: सपा-कांग्रेस के साथ महागठबंधन में शामिल नहीं होगी आरएलडी
पत्नी ने व्‍हाट्सएप पर शेयर किया नपुंसक पति का 'राज', हत्या के बाद खुदकुशी
पत्नी ने व्‍हाट्सएप पर शेयर किया नपुंसक पति का 'राज', हत्या के बाद खुदकुशी
Opinion Poll

Social Counting