चीनी 'दीदी' ने इंडियन ओला एप में किया निवेश

Written By:

चीन की प्रमुख टैक्सी सेवा एप्लीकेशन कंपनी दीदी ने कुछ अन्य निवेशकों के साथ मिलकर भारतीय ओला एप में निवेश किया है। कंपनी ने यह जानकारी सोमवार को दी। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, दीदी के साथ ओला में निवेश करने वाली अन्य कंपनियों में शामिल हैं जीआईसी, फाल्कन एज, टाइगर ग्लोबल और सॉफ्टबैंक। इसी महीने के शुरू में दीदी ने अमेरिका की सवारी साझेदारी सेवा लिफ्ट में 10 करोड़ डॉलर निवेश किया था और एशिया की ग्रैबटैक्सी के लिए 35 करोड़ डॉलर के निवेश में भी शामिल हुई थी।

चीनी 'दीदी' ने इंडियन ओला एप में किया निवेश

फ्री सेवा देने के बाद भी हर मिनट लाखों कमाता है गूगल

लिफ्ट और ग्रैबटैक्सी को अपने-अपने क्षेत्रों में उबर का धुर प्रतियोगी माना जाता है। दीदी द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, ओला की अभी भारतीय टैक्सी एप सेवा बाजार में 80 फीसदी हिस्सेदारी है। कंपनी के पास देश के 100 से अधिक शहरों में 3,20,000 वाहन हैं, जिनसे हर रोज 7,50,000 सवारी यात्रा करते हैं। ओला ने हाल में ही देश में अपनी सेवा का विस्तार करने के लिए 75.4 करोड़ डॉलर की योजना की घोषणा की। इसके तहत 7.5 करोड़ डॉलर का उपयोग अगले साल की समाप्ति तक चालकों की संख्या एक लाख बढ़ाने में किया जाएगा।

Read more about:
English summary
Chinese company Didi has invested in Indian Ola app. According to news agency Sinhua including Didi, GIC, Falcon edge, tiger global and softbank has also invested in Ola app.
Please Wait while comments are loading...
एक भैंस घबराई हुई भागी जा रही थी तो चूहे ने क‍िया सवाल
एक भैंस घबराई हुई भागी जा रही थी तो चूहे ने क‍िया सवाल
फेमस एक्ट्रेस को हॉस्पिटल में भर्ती कर बिल भरने के डर से बेटा भागा
फेमस एक्ट्रेस को हॉस्पिटल में भर्ती कर बिल भरने के डर से बेटा भागा
Opinion Poll

Social Counting