एटीएम से रुपए निकालने वालों के लिए चौंकाने वाली खबर!

एटीएम, इस से देश में सबसे जरुरी हो चुका है। नोटबंदी से निपटने के लिए लोग खर्चे भले ही कम कर रहे हैं लेकिन थोड़े खर्चे के लिए भी एटीएम के चक्कर काट रहे हैं। ऐसे एटीएम पर भी खतरा मंडरा रहा है।

Written By:

देश में जहां नोटबंदी का दौर चल रहा है, लोग बिना रुपए के कई दिक्कतों से झूझ रहे हैं। हर दिन के खर्चों के लिए घंटों बैंकों के चक्कर काट रहे हैं, ऐसे में एटीएम ही उनका सबसे बड़ा सहारा है। हालाँकि इस समय गिने चुने एटीएम ही काम कर रहे हैं। कई एटीएम बिना कैश के केवल डब्बे बनकर रह गए हैं। लेकिन जहां एटीएम और कैश दोनों हों वहां लोग लम्बी कतारों में लगे हैं, ताकि उनका नंबर आए और वो थोड़े बहुत रुपए निकाल पाएं।

एटीएम से रुपए निकालने वालों के लिए चौंकाने वाली खबर!

अब ऐसे में एटीएम के सहारे बैठे लोगों के लिए चौंका देने वाली खबर आ रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 2017 में एटीएम पर साइबर हमले बढ़ सकते हैं। अमेरिकी साइबर सुरक्षा कंपनी फायरआई की 'सुरक्षा परिदृश्य एशिया प्रशांत संस्करण रिपोर्ट' में कहा गया है कि साल 2017 में एशिया प्रशांत क्षेत्र (एपीएसी) में एटीएम पर साइबर हमलों में तेजी आएगी।

पुराने 500 और 1000 रुपए के नोट से खरीद पाएंगे फोन!

एटीएम से रुपए निकालने वालों के लिए चौंकाने वाली खबर!

इस रिपोर्ट में कहा गया है, "हमाने पाया है कि एपीएसी में एटीएम पर साइबर हमलों में तेजी होगी, जिसमें भारत भी शामिल है। क्योंकि अविकसित देशों के एटीएम आसान लक्ष्य हैं। इसका कारण यह है कि वहां एटीएम में पुराने सॉफ्टवेयर चल रहे हैं, जो विंडोज एक्सपी पर आधारित हैं। जो कि साइबर हमलावरों के लिए एक बेहद आसान टारगेट हो जाते हैं।"

पुराने 500 रुपए पर मिलेगा 600 रुपए का टॉकटाइम!

हाल ही में कुछ प्रमुख भारतीय बैंकों ने देश के वित्तीय क्षेत्र के सबसे बड़े सुरक्षा खतरे के कारण लाखों डेबिट कार्ड को ब्लॉक कर दिया था, जिनकी सुरक्षा खतरे में पड़ गई थी।

एटीएम से रुपए निकालने वालों के लिए चौंकाने वाली खबर!

इनमें भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई), एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और यस बैंक शामिल थे। एसबीआई ने करीब छह लाख डेबिट कार्ड ब्लॉक किए थे।

पुराने 500 रुपए के नोट से करवा सकते हैं रिचार्ज, जल्दी करें!

हालांकि ये संस्थान साइबर प्रौद्योगिकी में काफी निवेश कर रहे हैं, खासकर ऑटोमेशन वाली प्रौद्योगिकी में। लेकिन इसके बावजूद फायरआई ने अनुमान लगाया है कि इससे साइबर सुरक्षा के पुराने खतरों के साथ ही नए खतरे भी सामने आएंगे।
हाल ही में कोबाल्ट नामक हैकरों के एक समूह ने समूचे यूरोप के एटीएम को निशाना बनाया। वे दूर किसी दूसरे देश से एटीएम को निशाना बनाते हैं और भारी धनराशि को अपने खाते में ट्रांसफर कर देते हैं।

नए स्मार्टफोन की बेस्ट ऑनलाइन डील्स के लिए यहाँ क्लिक करें


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज


English summary
Cyber Attack on ATM may rise in India in the next year Hindi news. Read more in detail.
Please Wait while comments are loading...
आरबीआई के ऐलान से पहले ही बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिया अपने ग्राहकों को तोहफा
आरबीआई के ऐलान से पहले ही बैंक ऑफ बड़ौदा ने दिया अपने ग्राहकों को तोहफा
दो साल के बेटे को रोज घंटो रेत में दबाती है मां, वजह रुला देने वाली
दो साल के बेटे को रोज घंटो रेत में दबाती है मां, वजह रुला देने वाली
Opinion Poll

Social Counting