मंगल ग्रह पर कैसे खत्म हुआ पानी?

Posted by:

दुनिया भर के वैज्ञानिक जहां मंगल ग्रह पर पानी होने के संकेत मिलने पर उत्साहित हैं वहीं उल्कापिंड को लेकर किए जा रहे एक अध्ययन में खुलासा हुआ है कि मंगल से पानी खत्म कैसे हुआ। इस अध्ययन में खुलासा किया गया है कि मंगल ग्रह की उत्पत्ति के करीब 50 अरब वर्ष के दौरान भारी मात्रा में पानी अंतरक्षि में वाष्प बनकर गायब हो गया, जबकि बाकी बचा पानी जम गया और पूरा जलाशय बर्फ में तब्दील हो गया। माना जा रहा है कि यह बर्फ अब भी इसके सतह के नीचे दबी हुई है।

पढ़ें: अमेरिकी फोटोग्राफर ने 100 साल पहले खींची थी ये जबरदस्त तस्‍वीरें

जापान के नगोया विश्वविद्यालय से जुड़े इस अध्ययन के प्रमुख लेखक हिरोयुकी कुरोकावा ने कहा, "नए अध्ययन से इस बात को बल मिलता है कि मंगल ग्रह के सतह के नीचे भारी मात्रा में बर्फ छिपा हुआ है।

पढ़ेंं: गलत काम जो इंटरनेट पर चल रहे हैं

मंगल ग्रह पर कैसे खत्म हुआ पानी?

वैज्ञानिकों का मानना है कि मंगल ग्रह पर मौजूद अधिकांश पानी गायब हो गया, क्योंकि पानी को अपने साथ रखने के लिए इस ग्रह का गुरुत्वाकर्षण पर्याप्त नहीं था। समय के साथ मंगल पर से पानी वाष्प बनकर अंतरिक्ष में उड़ गया। कुरोकावा ने अपने अध्ययन में कहा, "आज भी मंगल ग्रह पर काफी सारा पानी मौजूद है। यह अध्ययन जर्नल अर्थ एंड प्लेनेटरी साइंस लेटर्स में प्रकाशित किया जाएगा।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
Please Wait while comments are loading...
पुणे टेस्ट मैच शुरू होते ही भारत ने तोड़ा पाकिस्तान का रिकॉर्ड
पुणे टेस्ट मैच शुरू होते ही भारत ने तोड़ा पाकिस्तान का रिकॉर्ड
12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि इतनी महत्वपूर्ण क्यों?
12 शिवरात्रियों में से महाशिवरात्रि इतनी महत्वपूर्ण क्यों?
Opinion Poll

Social Counting