सालों से एप्‍पल के साथ जुड़ा था सैम संग

Posted by:

कुछ साल पहले कनाडा के वैंकूवर में एप्पल के एक स्टोर में सैम संग नाम का एक लड़का काम करता था। आज वह इस स्टोर में काम नहीं करता है, लेकिन उसके आखिरी विजिटिंग कार्ड की कीमत अभी इस समाचार के लिखे जाने तक उपलब्ध सूचना के अनुसार 80,200 डॉलर लग रही है। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित सोमवार की डॉलर-रुपया विनिमय दर के मुताबिक यह राशि 49 लाख 01 हजार 543 रुपये के बराबर है। इस राशि से देश की राजधान नई दिल्ली में एक घर आराम से खरीदी जा सकती है।

पढ़ें: मोबाइल फोन से खींचिए डिजिटल कैमरे जैसी फोटो

सैम संग ने अपने आखिरी विजिटिंग कार्ड को ऑनलाइन बिक्री वेबसाइट ईबे पर नीलामी के लिए रख दिया। अभी बोली लगाने के लिए चार दिन और बचा हुआ है। उल्लेखनीय है कि सैम संग नाम से जो कंपनी दक्षिण कोरिया में चल रही है, वह दुनिया में एप्पल की सबसे बड़ी प्रतिद्वंद्वी है। लेकिन सैम संग ने कहा कि उसे एप्पल स्टोर में काम करने में कोई दिक्कत नहीं आई।

पढ़ें: एपल के कुछ नायाब डिज़ाइन जो आपने कभी नहीं देखे होंगे

सालों से एप्‍पल के साथ जुड़ा था सैम संग

सैम संग अब 25 साल के हो गए हैं। उन्होंने वैंकूवर में पैसिफिक सेंटर आईस्टोर में तीन साल तक काम किया था। इस स्टोर में मिला उन्हें मिला एक विजिटिंग कार्ड एक पुरानी किताब में रखा हुआ था। संयोग से पिछले दिनों किताब से जब यह कार्ड उनके सामने गिर गया, तो उनके मन में इसकी नीलामी कर देने का खयाल आया।

अभी तक इस कार्ड के लिए 49 लाख 01 हजार 543 रुपये की बोली लग गई है। चार दिनों तक और बोली जारी रहेगी। सैम संग ने बताया कि इस नीलामी से जो राशि हासिल होगी, उसे घातक रोग से जूझ रहे बच्चों के लिए काम करने वाली एक संस्था 'चिल्ड्रंस विश फाउंडेशन' का दान कर दी जाएगी।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
English summary
Former Apple Store Employee Sam Sung Is Selling His Work Gear On Ebay.
Please Wait while comments are loading...
कैंसर के कारण बिस्तर से नहीं उठ पाती थी मां, भाई करता रहा नाबालिग बहनों का रेप
कैंसर के कारण बिस्तर से नहीं उठ पाती थी मां, भाई करता रहा नाबालिग बहनों का रेप
तो अंपायर कुमार धर्मसेना के कारण कोलकाता वनडे हारा भारत?
तो अंपायर कुमार धर्मसेना के कारण कोलकाता वनडे हारा भारत?
Opinion Poll

Social Counting