गूगल के ये टॉप 5 प्रोजेक्ट्स बदल सकते हैं फ्यूचर..!

Written by: Super

संसार का प्रमुख व सबसे बड़ा सर्च इंजन ''गूगल'' परिचय का मोहताज नहीं हो। विशेषकर तकनीक एवं कंप्यूटर का इस्तेमाल करने वाले लोग गूगल की सर्विस का यूज करते ही रहते होंगे।

भारत में लांच हुआ 4जीबी रैम वाला पॉवरफुल स्‍मार्टफोन "यूटोपिया"

आपको जानकर हैरानी होगी कि गूगल ने भविष्य की अनेक और भी योजनाएं बनाई हुई हैं अर्थात् आने वाले कल को समझकर गूगल द्वारा अनेक तकनीकों पर कार्य भी शुरू कर दिए हैं।

गूगल का नया परिसर हैदराबाद में : सुंदर पिचई

चलिए आपको आज गूगल और उसकी सहायक कंपनियों द्वारा संचालित प्रोजेक्टों के बारे में जानकारी दिए देते हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

ये हैं गूगल के टॉप प्रोजेक्ट्स..!

इस प्रोजेक्ट द्वारा गूगल विश्व को अधिकाधिक क्षेत्रों को इंटरनेट से जोड़ने की कोशिश कर रहा है। बैलून्स से अब इंटरनेट सुविधा मिलेगी। इसके अंतर्गत जमीन से 20 किलोमीटर ऊपर बैलून को रखा जाएगा जिसकी सहायता से आस-पास के क्षेत्रों में इंटरनेट सेवा पहुंचाई जाएगी। न्यूजीलैंड, कैलिफोर्निया (अमेरिका) व ब्राजील आदि देशों में इस टेक्नोलॉजी का ट्राॅयल हो चुका है। भारत में भी टेस्टिंग हेतु आरंभिक दौर में गूगल बीएसएनएल के साथ हाथ मिलाकर काम कर सकता है। इन बैलून्स की मदद से 40 से 80 किमी के एरिया में इंटरनेट सुविधा मिल पाएगी। इससे दो लाभ होंगे, पहला उन क्षेत्रों में सरलता से इंटरनेट जाएगा जहां इंटरनेट पहुंचना मुश्किल है तो दूसरे, यह मोबाइल टावर्स का स्थान लेगा जिससे वातावरण को होने वाले नुकसान से बचा जा सकेगा। गूगल अगले वर्ष तक इस प्रोजेक्ट को पूरे विश्व में लागू करना चाहता है, जिससे यूजर्स को 24 घंटे इंटरनेट सुविधा पहुंचाई जा सके।

ये हैं गूगल के टॉप प्रोजेक्ट्स..!

गूगल की ड्राइवरलेस कार प्रोजेक्ट से निरंतर बढ़ते ट्रैफिक समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी। इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत तैयार कार बिना ड्राइवर के भी बिल्कुल सही तरीके से सफर तय कर सकेगी।

ये हैं गूगल के टॉप प्रोजेक्ट्स..!

गूगल द्वारा ऐसी पिल्स पर कार्य हो रहा है जोकि आपके पेट की बीमारियां बताएंगे। ये पिल्स नैनो सेल्स से बनाई गईं है।

ये हैं गूगल के टॉप प्रोजेक्ट्स..!

गूगल द्वारा स्मार्ट कॉन्टैक्ट लैंस पर भी काम किया जा रहा है। यह स्मार्ट कॉन्टैक्ट लैंस यूजर्स की आंखों की रोशनी को बढ़ाने के अतिरक्त भी काम करेगा। गूगल डायबिटीज के मरीजों के लिए भी स्मार्ट कॉन्टैक्ट लैंस बना रहा है। यह आंखों के आंसुओं से ही ब्लड में शुगर की मात्रा को चैक कर सकेगा। अब तो आप समझ ही गए होंगे कि रोगियों को सुई की दर्द से छुटकारा मिलेगा।

ये हैं गूगल के टॉप प्रोजेक्ट्स..!

बेसलाइन स्टडी एक मेडिकल व जिनोमिक्स प्रोजेक्ट है। इसमें गूगल 175 लोगों के सलाइवा और जींस का डाटा कलेक्ट करेगा व उनकी आपस में तुलना करेगा।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
Google has started another company named ABCD, which will take care of seismic healthcare projects. Here are the Top projects google is working on.
Please Wait while comments are loading...
आगरा: एक घर से आ रही थी बदबू, दरवाजा तोड़ा तो नजारा देख पुलिस के उड़े होश
आगरा: एक घर से आ रही थी बदबू, दरवाजा तोड़ा तो नजारा देख पुलिस के उड़े होश
251 रुपए में स्मार्टफोन देने वाले मोहित गोयल हैं आठवीं फेल, पुलिस के सामने खुद किया कबूल
251 रुपए में स्मार्टफोन देने वाले मोहित गोयल हैं आठवीं फेल, पुलिस के सामने खुद किया कबूल
Opinion Poll

Social Counting