आईबॉल ने उतारा 7,649 रुपए के वॉयस कॉलिंग टैबलेट

Posted by:

पीसी एसेसरीज़ और मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनी आईबॉल ने स्‍लाइड सीरीज़ के तहत नया वॉयस कॉल एंड्रायड टैबलेट बाजार में लांच किया है। कंपनी की साइट में टैब की एमआरपी कीमत 8,199 रुपए है जबकि स्‍नैपडील में आई बॉल स्‍लाइड 3G17 टैब 7,649 रुपए में उपलब्‍ध है। वेबसाइट के अनुसार नए वॉयस कॉल टैब में एंड्रायड का जैलीबीन 4.2 ओएस दिया गया है साथ में ड्युल सिम सपोर्ट मौजूद है।

टैब में 7 इंच की 5 प्‍वाइंट मल्‍टीटच स्‍क्रीन दी गई है जो 480x800 रेज्‍यूलूशन सपोर्ट करती है। टैब में 1.3 गीगाहर्ट का ड्युल कोर कार्टेक्‍स ए7 प्रोसेसर और 512 एमबी रैम दी गई है।

पढ़ें: फोन में फोटो एडिट करने की बेस्‍ट फ्री एंड्रायड एप्‍लीकेशन

कैमरा
3G17 टैब में 2 मेगापिक्‍सल का रियर कैमरा, लिड लाइट फ्लैश के साथ दिया गया है साथ में 0.3 मेगापिक्‍सल का फ्रंट फेसिंग कैमरा लगा हुआ है। फोन की इंटरनल मैमोरी 2 जीबी है जो थोड़ी कम है लेकिन इसे माइक्रोएसडी कार्ड स्‍लॉट की मदद से बढ़ाया जा सकता है। बैटरी बैकप की बात करें तो आईबॉल 3G17 में 2500 एमएएच की बैटरी दी गई जो नार्मल बैटरी बैकप देती है।

कनेक्‍टीविटी फीचर
कनेक्‍टीविटी के लिए 3G17 में वाईफाई, ब्‍लूटूथ, माइक्रोयूएसबी पोर्ट, जीपीएस, 3जी जैसे फीचर दिए गए हैं।

पढ़ें: ट्विटर पर लता के बाद अब आशा पारेख के निधन की खबर

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Design & Display

फोन में फुल कैपेसिटिव 7 इंच की मल्‍टीटच स्‍क्रीन दी गई जो 800*480 रेज्‍यूलूशन सपोर्ट करती है।

Processor

टैब में एआरएम कार्टेक्‍स ए7 1.3 गीगाहर्ट का ड्युल कोर प्रोसेसर लगा हुआ है।

Camera

टैब में 2.0 मेगापिक्‍सल का रियर कैमरा और लिड लाइट लगी हुई है, जबकि फ्रंट कैमरे की मदद से वीडियो कॉल भी कर सकते हैं।

Operating System

टैब में एंड्रायड का 4.2 जैलीबीन ओएस दिया गया है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Please Wait while comments are loading...
SBI अकाउंट होल्डर्स के खाते से काटे जा रहे हैं 990 रुपए, जानें क्यों?
SBI अकाउंट होल्डर्स के खाते से काटे जा रहे हैं 990 रुपए, जानें क्यों?
यूपी विधानसभा चुनाव 2017:  तीसरे चरण का मतदान खत्म, 61.16 % वोटिंग
यूपी विधानसभा चुनाव 2017: तीसरे चरण का मतदान खत्म, 61.16 % वोटिंग
Opinion Poll

Social Counting