नहीं रहीं मानव कंप्यूटर शकुंतला देवी

Posted by:

मानव कम्प्यूटर' के नाम से विख्यात गणितज्ञ एवं ज्योतिषी शकुंतला देवी का रविवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 83 वर्ष की थीं। शकुंतला देवी की एक पुत्री हैं। शकुंतला देवी को संख्यात्मक परिगणना में गजब की फुर्ती और सरलता से हल करने की क्षमता के कारण ही 'मानव कम्प्यूटर' कहा जाता था।

 उनकी सहयोगी कविता मल्होत्रा ने जानकारी दी कि "हृदय गति रुक जाने और गुर्दे की समस्या के कारण आज (रविवार) उनका एक निजी अस्पताल में सुबह 8.15 बजे निधन हो गया।" गुर्दो के ठीक से काम न करने और सांस लेने में दिक्कतों के कारण उन्हें तीन अप्रैल को बेंगलुरू अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। 

नहीं रहीं मानव कंप्यूटर शकुंतला देवी

शकुंतला देवी की गणित और ज्योतिषी से संबंधित विदेश यात्राओं में उनके साथ रहने वाली मल्होत्रा ने बताया, "वह एक महान शख्सियत थीं। वास्तव में हमें उम्मीद नहीं थी कि वह इस तरह हमें छोड़कर चली जाएंगी। वह बहुत जिंदादिल थीं और जल्द से जल्द स्वस्थ होने के बारे में सोच रही थीं। लेकिन उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं था और हमारे लिए यह बहुत बड़ी क्षति है।"

 शकुंतला देवी के अंतिम संस्कार के समय उनके रिश्तेदारों और प्रशंसकों सहित सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे। रविवार की शाम ही बेंगलुरू के दक्षिणी उपनगरीय इलाके में उनका अंतिम संस्कार किया गया।

Please Wait while comments are loading...
 गुस्से में मुस्लिम समुदाय, काली पट्टी बांधकर पढ़ेंगे ईद की नमाज
गुस्से में मुस्लिम समुदाय, काली पट्टी बांधकर पढ़ेंगे ईद की नमाज
चार पैरों वाले बच्चे ने लिया जन्म, भगवान विष्णु का अवतार समझ कर लोग करने लगे पूजा
चार पैरों वाले बच्चे ने लिया जन्म, भगवान विष्णु का अवतार समझ कर लोग करने लगे पूजा
Opinion Poll

Social Counting