आईआरसीटीसी की नई एंड्रायड ऐप झट से बुक कर देगी आपका टिकट

Written By:

आईआरसीटीसी ने भारत में तेजी से बढ़ते हुए मोबाइल उपभोक्‍ताओं को देखते हुए एंड्रायड प्‍लेटफार्म के लिए नई टिकट बुकिंग एप्‍लीकेशन लांच कर दी है इससे पहले आईआरसीटीसी विंडो और ब्‍लैकबेरी के लिए भी ऐप लांच कर चुकी है।

नई ऐप में यूजर न सिर्फ आसानी से ट्रेन सर्च कर सकेगा बल्‍कि अपने पिछले बुक किए गए सभी टिकट कैसिंल भी कर सकता है। गूगल प्‍ले स्‍टोर में आईआरसीटीसी ऐप को फ्री डाउनलोड किया जा सकता है। ऐप का साइज 12 एमबी है साथ ही इसे आप एंड्रायड 4.1 के अलावा इससे अपग्रेड सभी ओएस में प्रयोग कर सकते हैं।

पढ़ें: दिवाली ऑफर: टॉप 10 सैमसंग स्‍मार्टफोन जिनमें मिल रहा है भारी डिस्‍काउंट

जरूरी बात- फिलहाल ऐप में आप सुबह के 8 बजे से लेकर 12 बजे तक लॉग-इन नहीं कर सकते हैं, हो सकता है सुबह में टिकट की अधिक बुकिंग होने की वजह से ऑनलाइन फोन में इसकी सुविधा अभी न दी जा रही हो।

आईआरसीटीसी की नई एंड्रायड ऐप झट से बुक कर देगी आपका टिकट

वहीं दूसरी ओंर भारतीय रेल खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) ने अपने मुख्य कार्य खान-पान सेवा से हटाये जाने के बावजूद कारोबारी वैविध्य के जरिये बीते वित्त वर्ष में 954.70 करोड़ रुपये की कमाई के साथ आय में 32.66 फीसदी का इजाफा किया है।

कंपनी को वर्ष 2010 में रेलवे की नई खान पान नीति आने के बाद इस सेवा से हटा लिया गया था जिससे वर्ष 2011-12 में उसकी आमदनी वर्ष 2010-11 के 764.93 करोड़ रुपए से घटकर 554.11 करोड़ रुपए रह गयी। लेकिन आईआरसीटीसी ने अपने कारोबार का विविधीकरण पर ध्यान दिया और पर्यटन, ई-टिकटिंग और रेलनीर के जरिए अपनी आमदनी के घाटे से उबरने में कामयाब रही।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
English summary
Indian Railway Catering and Tourism Corporation or IRCTC has come out with an Android app dedicated for mobile users to let them book tickets using their smartphones.
Please Wait while comments are loading...
VIDEO: दिल्‍ली के इस मशहूूूर होटल में पैर से गूंथा जाता था आटा, पड़ा छापा
VIDEO: दिल्‍ली के इस मशहूूूर होटल में पैर से गूंथा जाता था आटा, पड़ा छापा
PICS: बचपन का प्‍यार पाने के लिए कराया सेक्‍स चेंज, लड़की बनने के बाद रचाई शादी
PICS: बचपन का प्‍यार पाने के लिए कराया सेक्‍स चेंज, लड़की बनने के बाद रचाई शादी
Opinion Poll

Social Counting