लाखों रुपए देकर सेंसिटिव डाटा पाने की फ़िराक में ISIS!

Written By:

भारत ने हाल ही में अपना 67वां गणतन्त्र दिवस मनाया है। एक तरफ जहां इसकी ख़ुशी है वहीं दूसरी तरफ आतंकवाद का खौफ भी। इन दिनों खौफ का दूसरा नाम है ISIS। इस आतंकी संगठन का आतंक भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है। खबर है कि ISIS भारतीय हैकर्स को लाखों रुपए का लालच देकर देश का सेंसिटिव डाटा निकलवाना चाहते हैं।

इन ट्रिक्स से रखें अपने गैजेट्स का ध्यान..!

प्राप्त जानकारी के अनुसार ISIS भारतीय हैकर्स से संपर्क साधने की कोशिश में हैं। वह चाहते हैं कि हैकर्स उन्हें देश के सरकारी वेबसाइट का एक्सेस दे जिससे वह सेंसिटिव मामलों में दखल देकर हानि पहुंचा सके।

जल्द ही आपस में जुड़ेंगे फेसबुक और व्हाट्सएप!

कहा जा रहा है कि इस काम के लिए ISIS भारतीय हैकर्स को 10,000 डॉलर तक देने को तैयार हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

एक्सपर्ट्स का कहना

'ऐसी कई कम्युनिटीज ऑनलाइन हैं जहाँ हैकर्स से संपर्क किया जा सकता है। जानकारी है कि हैकर्स को पिछले छह महीनों से सरकारी डाटा चुराने के कई ऑफर मिले हैं। इस काम के लिए हैकर को बढ़ी कीमत दिए जाने के ऑफर आ रहे हैं। इतनी अधिक कीमत पहले कभी नहीं ऑफर की गयी है। हमने पाया है कि यह ऑफर ISIS की पहुँच को देश में फ़ैलाने के लिए है। ' यह कहना है साइबर क्राइम एक्सपर्ट किसलय चौधरी का जो सिक्योरिटी एजेंसीज से जुड़े हुए हैं।

हो सकती है परेशानी

बीते कुछ समय में सोशल मीडिया व कुछ वेबसाइट के जरिए भारत के खिलाफ काफी जहर उगला गया है। इन चैनल्स को चलाने वाले यूजर्स ज्यादातर साउथ इंडिया, महाराष्ट्र, राजस्थान व कश्मीर में बेस्ड हैं। देश के खिलाफ नफरत फ़ैलाने के लिए ये लोग कई लोकल भाषाओं जैसे हिंदी, उर्दू, तमिल व बंगला का सहारा लेते हैं और युवा पीढ़ी को भड़काते हैं। यदि ऐसा चलता रहा तो ये आगे चलकर एक बढ़ी समस्या बन सकती है।

इनसे निपटने की क्या है तैयारी!

सिक्योरिटी एजेंसीज की मानें तो इंटरनेट से ISIS से जुड़ा कंटेंट हटा दिया गया है। ऐसी करीब 94 वेबसाइट ब्लाक की गयी हैं जो कि ISIS से जुड़ी हुई थी। सरकार भी अपनी निगरानी सोशल मीडिया जैसे फेसबुक व ट्विटर पर बनाएं हुए है।

12 संदिग्ध हुए थे गिरफ्तार

हाल ही में भारत की सुरक्षा एजेंसियों ने देशभर से करीब 12 संदिग्धों को हिरासत में लिया था। ये सभी ISIS सदस्यों से सीधे संपर्क में थे। जानकारी है कि यह 26 जनवरी को भारत में हमले की तैयारी कर रहे थे।

हिंदी गिज़बॉट

ऐसे ही अन्य टेक न्यूज़ के लिए पढ़ें हिंदी गिज़बॉट व लाइक करें हमारा फेसबुक पेज!


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
ISIS is offering millions to indian hackers to get sensitive data. They want the access of Government websites, so that they can harm the country.
Please Wait while comments are loading...
राष्ट्रपति बनते ही ट्रंप ने लिया फैसला, सभी राजदूत हटाए
राष्ट्रपति बनते ही ट्रंप ने लिया फैसला, सभी राजदूत हटाए
VIDEO: बिहार में पैदा हुआ 'एलियन', आपने ऐसा बच्चा आज तक नहीं देखा होगा
VIDEO: बिहार में पैदा हुआ 'एलियन', आपने ऐसा बच्चा आज तक नहीं देखा होगा
Opinion Poll

Social Counting