आतंकी कर रहे हैं अब बिना सिम मोबाइल तकनीक का इस्तेमाल

Written by: Super

आधुनिक तकनीक का उपयोग आजकल आतंकवादियों द्वारा भी किया जाने लगा है। द हिंदू में छपी खबर की माने तो पड़ोसी देश के आतंकवादी एक ऐसी ही तकनीक ‘‘वाईएसएमएस एप्लीकेशन'' का इस्तेमाल कर रहे हैं जिसमें बिना किसी मोबाइल नेटवर्क के संदेश वैरी हाई फ्रीक्वेंसी वीएचएफ पर न केवल भेजे जा सकते हैं बल्कि इन संदेशों को पकड़ा भी नहीं जा सकता।

पढ़ें: सेकंडहैंड फोन खरीदने से पहले ध्यान रखें ये बातें

आतंकी कर रहे हैं अब बिना सिम मोबाइल तकनीक का इस्तेमाल

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले राफियाबाद क्षेत्र से पेयर्ड सैमसंग मोबाइल फोन और वायरलैस सैट सिस्टम के साथ पकड़े गए आतंकी सज्जाद अहमद ने इस बात की जानकारी दी। उसने बताया कि स्मार्टफोन को साधारण रेडियो से पेयर्ड कर उस पर छोटे एसएमएस, लोकेशन अथवा एसओएस भेजे जा सकते हैं।

अपने लैपटॉप को ऐसे रखें सेफ!

यहां तक कि यह संदेश सुरक्षा उपकरण पकड़ भी नहीं पाते हैं। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि यह तकनीक हरीकेन के समय संदेश भेजने के लिए अक्टूबर 2012 में अमरीका में विकसित की गई थी। चूंकि उस समय सभी मोबाइल टाॅवर्स नष्ट होेने से मोबाइल निष्क्रिय हो गए थे व संदेश भेजने का कोई भी तरीका नहीं बचा था।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए क करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज
English summary
Pakistani terror outfit Lashkar-e-Taiba (LeT) has developed an exclusive mobile application for its operatives in Jammu and Kashmir and elsewhere to make their communication secure.
Please Wait while comments are loading...
सड़क हादसे में मशहूर अभिनेत्री की मौत, शोक में फिल्म इंडस्ट्री
सड़क हादसे में मशहूर अभिनेत्री की मौत, शोक में फिल्म इंडस्ट्री
'बुलेट ट्रेन की स्पीड' से ज्यादा तेज ओडिशा के इस रेल प्रस्ताव को ट्विटर पर सुरेश प्रभु ने किया मंजूर
'बुलेट ट्रेन की स्पीड' से ज्यादा तेज ओडिशा के इस रेल प्रस्ताव को ट्विटर पर सुरेश प्रभु ने किया मंजूर
Opinion Poll

Social Counting