बंद होने के कगार पर थी कभी लेकिन आज हैं दुनियां की सबसे पॉपुलर कंपनियां

Posted by:

इस बात में कोई शक नहीं मंदी किसी भी बिजनेस के लिए काफी नुकसानदायक होती है लेकिन, कई ऐसी कंपनियां हैं जिन्‍होंने बुरे दौर में भी हिम्‍मत से काम लिया और आज वे दुनियाभर में जानी जाती हैं। हम आपको आज कुछ ऐसी ही कंपनियों के बारे में बताएंगे। काफी लोग यहीं समझते हैं कि शुरु से ही ये सभी कंपनियां प्रॉफिट में रही लेकिन एक समय था जब कई कर्मचारियों को मंदी की वजह से अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा था।

जनरल इलेक्‍ट्रिक: 1890
जनरल इलेक्‍ट्रिक कंपनी न्‍यूयार्क की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है, जीई के दुनियां भर में करीब 323,000 कर्मचारी है। 1890 तक थॉमस एडीसन ने जीई को अपने व्‍यापारिक हितों के लिए प्रयोग किया, उसके बाद 1892 में एडीसन जनरल इलेक्‍ट्रिक और थॉमस ह्यूस्टन कंपनी के विलय के बाद जनरल इलेक्‍ट्रिक का गठन हुआ। एडीसन जनरल इलेक्‍ट्रिक और थॉमस ह्यूस्टन के विलय के बाद यूएस इकनॉमी में घाटे का दौरा शुरु हो गया लेकिन फिर भी जीई इस दौर में भी खुद को संभाले रही। जीई का मुख्‍यालय ओहियो में नेला पार्क में हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

General Electric: 1890

जनरल इलेक्‍ट्रिक कंपनी न्‍यूयार्क की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है, जीई के दुनियां भर में करीब 323,000 कर्मचारी है। 1890 तक थॉमस एडीसन ने जीई को अपने व्‍यापारिक हितों के लिए प्रयोग किया, उसके बाद 1892 में एडीसन जनरल इलेक्‍ट्रिक और थॉमस ह्यूस्टन कंपनी के विलय के बाद जनरल इलेक्‍ट्रिक का गठन हुआ। एडीसन जनरल इलेक्‍ट्रिक और थॉमस ह्यूस्टन के विलय के बाद यूएस इकनॉमी में घाटे का दौरा शुरु हो गया लेकिन फिर भी जीई इस दौर में भी खुद को संभाले रही। जीई का मुख्‍यालय ओहियो में नेला पार्क में हैं।

IBM: 1896

आईबीएम एक कम्प्यूटर प्रौद्योगिकी अंतरराष्‍ट्रीय कंपनी है जो सॉफ्टवेयर के साथ हार्डवेयर बनाती हैं। आईबीएस ने मेंफ्रेम कंप्‍यूटर से लेकर नैनो टेक्‍नालॉजी के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान दिया है। आईबीएम में 3,88000 कर्मचारी कार्य करते हैं जो दुनियां में सबसे बड़ी कंपनी के रूप में जानी जाती है। 1924 में थॉमस वॉटसन ने आईबीएस की कमाल संभाली थी जिसके बाद आईबीएम ने पंच कार्ड बनाने का काम शुरु किया था।

General Motors: 1908

अमेरिकन मल्‍टीनेशनल ऑटोमोटिव कंपनी जनरल मोटर्स का हेडक्‍वार्टर डीट्रायट, मेकहिगेन में है, जनरल मोटर्स दुनियां में सबसे ज्‍यादा वाहन बेंचने वाली कंपनियों में से एक है जहां पर 202,000 कर्मचारी काम करते हैं। कुछ समय पहले जनरल मोटर्स ने खुद को दीवालिया घोषित कर दिया गथा। जिससे करीब 20 हजार नोकरियां चली गई थीं। इसके साथ कंपनी ने अपनी कई इकाईयों को भी बंद कर दिया था। बाद में अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने जनरल मोटर्स के दिवालिया हेाने पर 30 अरब डॉलर की सहायता राशि प्रदान की थी।

Disney: 1923

वॉल्‍ट डिजनी और रॉय डिजनी ने मिलकर 16 अक्‍टूबर 1923 में डिजनी ब्रदर कार्टून स्‍टूडियो की स्‍थापना की थी। 1929 में वॉल्‍ट डिजनी की हालत काफी नाजुक हो चुकी थी उसी समय डिजनी ने मिक्‍की माउस को लांच किया जिसे पूरी दुनियां में काफी पसंद किया गया। इसके बाद 1937 में सेवन डावर्स मूवी ने डिजनी को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाया।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

आईबीएम: 1896
आईबीएम एक कम्प्यूटर प्रौद्योगिकी अंतरराष्‍ट्रीय कंपनी है जो सॉफ्टवेयर के साथ हार्डवेयर बनाती हैं। आईबीएस ने मेंफ्रेम कंप्‍यूटर से लेकर नैनो टेक्‍नालॉजी के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान दिया है। आईबीएम में 3,88000 कर्मचारी कार्य करते हैं जो दुनियां में सबसे बड़ी कंपनी के रूप में जानी जाती है। 1924 में थॉमस वॉटसन ने आईबीएस की कमाल संभाली थी जिसके बाद आईबीएम ने पंच कार्ड बनाने का काम शुरु किया था।

जनरल मोटर्स: 1908
अमेरिकन मल्‍टीनेशनल ऑटोमोटिव कंपनी जनरल मोटर्स का हेडक्‍वार्टर डीट्रायट, मेकहिगेन में है, जनरल मोटर्स दुनियां में सबसे ज्‍यादा वाहन बेंचने वाली कंपनियों में से एक है जहां पर 202,000 कर्मचारी काम करते हैं। कुछ समय पहले जनरल मोटर्स ने खुद को दीवालिया घोषित कर दिया गथा। जिससे करीब 20 हजार नोकरियां चली गई थीं। इसके साथ कंपनी ने अपनी कई इकाईयों को भी बंद कर दिया था। बाद में अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने जनरल मोटर्स के दिवालिया हेाने पर 30 अरब डॉलर की सहायता राशि प्रदान की थी।


डिजनी: 1923

वॉल्‍ट डिजनी और रॉय डिजनी ने मिलकर 16 अक्‍टूबर 1923 में डिजनी ब्रदर कार्टून स्‍टूडियो की स्‍थापना की थी। 1929 में वॉल्‍ट डिजनी की हालत काफी नाजुक हो चुकी थी उसी समय डिजनी ने मिक्‍की माउस को लांच किया जिसे पूरी दुनियां में काफी पसंद किया गया। इसके बाद 1937 में सेवन डावर्स मूवी ने डिजनी को नई ऊंचाईयों तक पहुंचाया।

Please Wait while comments are loading...
VIDEO: दिल्‍ली के इस मशहूूूर होटल में पैर से गूंथा जाता था आटा, पड़ा छापा
VIDEO: दिल्‍ली के इस मशहूूूर होटल में पैर से गूंथा जाता था आटा, पड़ा छापा
PICS: बचपन का प्‍यार पाने के लिए कराया सेक्‍स चेंज, लड़की बनने के बाद रचाई शादी
PICS: बचपन का प्‍यार पाने के लिए कराया सेक्‍स चेंज, लड़की बनने के बाद रचाई शादी
Opinion Poll

Social Counting