टेक्‍नालॉजी होती तो क्या होती रोमियो-जूलिएट की कहानी!

Written By:

टेक्‍नालॉजी ने आज हमारे लिए सबकुछ काफी आसान कर दिया है। पहले ऐसी कल्पना करना भी मुश्किल था कि एक बटन के प्रेस हम तक हमारा पसंदीदा खाना पहुँच जाएगा। साथ ही आज केवल खाना ही नहीं बल्कि एक बटन के प्रेस से आज घर बैठे हमारे टिकेट बुक हो जाते हैं। दूर विदेशों में बैठे हमारे करीबियों से मीलों की दूरी एक विडियो कॉल की बदौलत ख़त्म हो जाती है। हमारी कई जरूरतें आज केवल एक क्लिक के फासले पर हैं। लेकिन ये टेक्नोलॉजी यदि आज से कई सालों पहले आ चुकी होती तो क्या इससे कई परेशानियां हल हो सकती थी!

इंटरैक्टिव बुक रिटेलर फ्लिपस्नैक कुछ ऐसा ही सोचते हैं। अपनी एक नई सीरीज मॉडर्न डे क्लासिक्स में कंपनी ने यही कल्पना कि है कि यदि हमारी पसंदीदा बुक करैक्टर को आज की टेक्नोलॉजी का एक्सेस मिल जाता तो क्या होता!

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

#1

स्टोरी कुछ और ही होती!

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#2

ओलिवर ट्विस्ट!

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#3

पिनट्रस्ट

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#4

ट्विटर

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#5

गूगल मैप

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#6

उबर कैब!

सोर्स : फ्लिपस्नैक

#7

इंस्टाग्राम!

सोर्स : फ्लिपस्नैक


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
If Romeo Juliet had met in Technology world there would have been a different story. This is Flipsnack has imagined in its new series. check here.
Please Wait while comments are loading...
शहीदी दिवस: 1931 में आज ही के दिन दी गई थी भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू को फांसी
शहीदी दिवस: 1931 में आज ही के दिन दी गई थी भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू को फांसी
अरुण जेटली ने संसद में माना, जबरदस्ती आधार कार्ड को अनिवार्य कर रही है सरकार
अरुण जेटली ने संसद में माना, जबरदस्ती आधार कार्ड को अनिवार्य कर रही है सरकार
Opinion Poll

Social Counting