mAadhaar ऐप न करें डाउनलोड, ये है वजह !

Written By:

हाल ही में UIDAI ने अपना mAadhaar मोबाइल एप लॉन्च किया है। बता दें कि ये ऐप आपके आधार का डिजिटल रूप है, जिसमें जनसांख्यिकीय विवरण जैसे कि नाम, पता, जन्मतिथि आदि की जानकारी होती है। यूजर्स अपने डिजिटल आधार के बायोमैट्रिक डिटेल्स को लॉक अनलॉक भी कर सकते हैं। अगर आप इस ऐप को डाउनलोड करने का सोच रहे हैं, तो आपको बता दें कि अभी ये ऐप बीटा वर्जन में उपलब्ध है।

mAadhaar ऐप न करें डाउनलोड, ये है वजह  !

ट्विटर पर यूजर्स ने इस ऐप से जुड़ी शिकायतें की हैं। लोग शिकायत कर रहे हैं कि ऐप उन्हें पहली जगह में एक प्रोफाइल बनाने की अनुमति नहीं देता है। कई यूजर्स ने बताया कि जब उन्होंने ऐप में प्रोफाइल जोड़ने की कोशिश की तो उन्हें ओटीपी रिसीव नहीं हुआ। कुछ यूजर्स को ओटीपी आया और उन्होंने उसे एंटर किया तो ऑथेंटिकेशन फेल जैसी जानकारी आई। यूजर्स लगातार एक के बाद एक ऐप से जुड़ी शिकायतें कर रहे हैं।

ऐसे में अगर आप भी इस ऐप को डाउनलोड करने का सोच रहे हैं, तो बता दें कि आपके सामने भी ऐप से जुड़ी परेशानियां आ सकती हैं। ऐप जारी करते वक्त UIDAI ने बताया था कि फिलहाल ऐप अपने बीटा वर्जन पर है और इसे जल्द ही सभी यूजर्स के लिए अवेलेबल करा दिया जाएगा।

गूगल प्ले स्टोर पर दिया गया इसका विवरण बताता है कि एप बाद में कुछ अपडेट सुविधाओं के साथ व्यापक रूप से उपलब्ध होगा। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि ऐप को फायनल लॉन्च के पहले ये कमियां दूर कर इस ऐप को जल्द ही डाउनलोड कर दिया जाएगा।



English summary
users giving bad reviews to mAadhaar App. for more detail read in hindi.
Please Wait while comments are loading...
15 साल के लड़के का विधवा भाभी से कराया विवाह, दो दिन बाद की आत्महत्या
15 साल के लड़के का विधवा भाभी से कराया विवाह, दो दिन बाद की आत्महत्या
गुजरात चुनाव में वोट डालने पहुंच रहे, बुजुर्ग, बच्चे और दिव्यांग, तस्वीरें
गुजरात चुनाव में वोट डालने पहुंच रहे, बुजुर्ग, बच्चे और दिव्यांग, तस्वीरें
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot