सराहा ऐप: 5 बातें जो पहले जान लेना बेहतर है

By Agrahi
|

सराहा ऐप इन दिनों इन्टरनेट पर छाई हुई है। किसी फेसबुक वॉल हो या फिर फेसबुक फेसबुक हर जगह इस वक़्त केवल सराहा के ही चर्चें हैं। कोई इसके बारे में जानना चाहता है तो कोई इसके बारे में बताना चाहता। अब तो फेसबुक और व्हाट्सऐप पर सराहा ऐप पर जोक भी बनने लगे हैं।

 

मैसेज भेजकर बुक करें अपना जियोफोनमैसेज भेजकर बुक करें अपना जियोफोन

सराहा ऐप: 5 बातें जो पहले जान लेना बेहतर है

हर सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर इस समय सराहा ही है। यह एक है जिस पर यूज़र्स किसी भी अन्य को जो ऐप के साथ रजिस्टर है, उसे कुछ भी मैसेज भेज सकते हैं, बिना अपना नाम बताए। यानी कि आपको यदि कोई मैसेज भेजता है, तो आप उसका नाम नहीं जान पाएंगे, न ही जिसको आपने मैसेज भेजा है वो आपका नाम जान पाएंगे।

ऐसे फ्री डाउनलोड करें म्यूजिक और वीडियोऐसे फ्री डाउनलोड करें म्यूजिक और वीडियो

मजेदार है, सुनने में काफी दिलचस्प भी लगता है। इससे यह तो पता चलता है कि आप किसी को अपने दिल की बात भी कह दो और उन्हें पता भी नहीं चले। चलिए इससे पहले कि आप भी इस ऐप को डाउनलोड करें और इसके बारे में अपनी राय दें हम आपको इस ऐप के बारे में कुछ खास बातें बता देते हैं।

इसलिए पॉपुलर हुई सारह ऐप

इसलिए पॉपुलर हुई सारह ऐप

सराहा ऐप के पॉपुलर होने के दो कारण हैं। एक तो यह कि इस ऐप को इस्तेमाल करना बेहद ही आसान और सिंपल है। आपको इस ऐप डाउनलोड करना है और इस पर साइन इन अपनी आईडी दोस्तों से साथ शेयर करनी है। इसके बाद आपको मैसेज मिलना शुरू हो जाएगा।
इसके वायरल होने की दूसरी और सबसे बड़ी वजह है उत्सुकता, जो कि हर किसी के मन में है। यह जानने कि हमारे बारे में लोग क्या सोचते हैं, सबसे मजेदार बात यह है कि न आपको पता चलता है कि किसने क्या मैसेज भेजा है, न ही कोई और बता सकता है कि आपने उन्हें की मैसेज किया है।

सऊदी अरब के aअल-अबीदीन तौफीक ने बनाई है ऐप
 

सऊदी अरब के aअल-अबीदीन तौफीक ने बनाई है ऐप

इस दिलचस्प और रोमांचक ऐप को बनाने वाले सऊदी अरब के अल-अबीदीन तौफीक हैं। तौफीक का कहना है कि वो जानते थे कि यह ऐप लोगों को पसंद आएगी, लेकिन इतने कम समय में इतनी ज्यादा लोकप्रिय होगी इसका अंदाजा तो उन्हें भी नहीं था। इस ऐप के गूगल प्ले स्टोर में अब तक करीब 50 लाख से भी अधिक डाउनलोड हैं।

मन की बात जुबां पर नहीं तो मैसेज में ही सही

मन की बात जुबां पर नहीं तो मैसेज में ही सही

इस ऐप का सराहा है, जिसका अरबिक मतलब है ‘इमानदारी'। इस शानदार ऐप को बनाने के पीछे का कारण यही है कि इससे आप किसी व्यक्ति को सब कह सकें जो उनके सामने नहीं कह सकते हैं। ऐसा कुछ जो शायद उस ब्यक्ति को पसंद न आए। जैसे अपने बॉस को फीडबैक देना, किसी दोस्त को उसकी बुरी आदत के बारे में बताना।

नो डायरेक्ट रिप्लाई

नो डायरेक्ट रिप्लाई

सराहा पर आए मैसेज का रिप्लाई करने के लिए कोई डायरेक्ट मैसेज भेजने की सुविधा नहीं है। आपको जो मैसेज प्राप्त होता है आप उसका जवाब नहीं दे सकते हैं। सराहा के वेबसाइट पर भी लिखा है कि डेवलपर इस ऐप में डायरेक्ट रिप्लाई के ऑप्शन को स्टडी कर रहे हैं, याने कि हो सकता है कि जल्द ही यूज़र को यह ऑप्शन मिल जाए।

साइबर बुलिंग

साइबर बुलिंग

सराहा एक ओर जहाँ कई लोगों के लिए मजेदार, दिलचस्प और फन ऐप है वहीँ कई यूज़र्स के लिए यह एक साइबर बुलिंग का प्लेटफ़ॉर्म भी है। कई यूज़र्स इसका गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। यदि गूगल प्ले स्टोर पर दिए गए रिव्यु देखें तो उनमें आपको ऐसे उदाहरण भी मिलेंगे जो इस बात को साबित करते हैं। कुछ घटनाओं के बाद पेरेंट्स ने अपनी चिंता भी जताई है।

 
Best Mobiles in India

English summary
Sarahah app and most important things about the app. Read more detail of the app and its use, all in Hindi.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X