वॉट्सएप के लिए आई अच्छी खबर, यूजर्स जानकर हो जाएंगे खुश

Written By:

वॉट्सएप इस समय सबसे पॉपुलर मैसेजिंग ऐप बन चुका है। लगभग सभी स्मार्टफोन यूजर्स के फोन में ये मैसेंजिग ऐप मौजूद होता है। इस ऐप को लेकर हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है और ये एक अच्छी खबर है। पिछले कुछ समय में मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप न्यूज मीडिया के क्षेत्र में एक प्रमुख सोर्स के रूप में उभरा है।

वॉट्सएप के लिए आई अच्छी खबर, यूजर्स जानकर हो जाएंगे खुश

रॉयटर्स इंस्टीट्यूट फॉर स्टडी ऑफ जर्नलिज्म में रिसर्चर ने वॉट्सएप को लेकर रिसर्च किया। इस रिसर्च रिपोर्ट में सामने वॉट्सएप को लेकर एक जानकारी सामने आई है। डिजिटल न्यूज रिपोर्ट 2017 के लेखकों का कहना है, "हम कुछ समय से व्हाट्सऐप की वृद्धि दर पर नजर रख रहे थे, लेकिन समाचार के लिए इसके प्रयोग में पिछले एक साल में देश आधारित विविधता के साथ 15 फीसदी की वृद्धि हुई है।"

इस रिसर्च में यूरोप, अमेरिका और एशिया के 34 देशों की वॉट्सएप डेटा स्टडी की गई करीब 70,000 लोग इसमें प्रतिभागी बने। रिपोर्ट में कहा गया कि मेलेशिया के 51 प्रतिशत लोग न्यूज और डिस्कस के लिए फेसबुक का प्रयोग करते हैं। अमेरिका में सिर्फ तीन प्रतिशत लोग ही फेसबुक का इस्तेमाल न्यूज और चर्चा के लिए करते हैं।

अगर बात इन दोनों शहरों के अलावा ब्राजील की करें तो यहां 46 फीसदी लोग और स्पेन में करीब 32 फीसदी लोग इसका इस्तेमाल न्यूज जानने, पढ़ने, शेयर करने और डिस्कस करने के लिए करते हैं। हालांकि रिपोर्ट में ये भी सामने आया है कि न्यूज के सोर्स के रूप में वॉट्सएप की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से लोग खबरों के लिए फेसबुक का यूज कम करते जा रहे हैं और वॉट्सएप की मालिक कंपनी फेसबुक को इसका नुकसान हो रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक न्यूज सोर्स के रूप में फेसबुक की घटती लोकप्रियता और वॉट्सएप के बढ़ते यूज की वजह कारण 2016 में हुए फेसबुक के एल्गोरिदम में बदलाव है। फेसबुक प्रोफेशनल कंटेंट से ज्यादा प्राथमिकता फ्रैंड्स और फेमिली को देता है।



English summary
The use of WhatsApp for news is starting to rival Facebook in a number of markets, including Brazil wih 46 percent, and Spain 32 percent.
Please Wait while comments are loading...
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
नागालैंड की इन महिलाओं ने दुनिया के सामने पेश की नई मिसाल
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting