व्हाट्सऐप ने नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में अब क्या कहा है..?

|

व्हाट्सएप ने पिछले कुछ महीनों में काफी आलोचना झेली है और इसका कारण उसकी प्राइवेसी पॉलिसी यानि गोपनीयता नीति है। फेसबुक के स्वामित्व वाला मैसेजिंग ऐप अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी कंडीशन रखी, जिसके कारण कई व्हाट्सएप यूज़र्स ने सिग्नल और टेलीग्राम जैसे अन्य मैसेजिंग एप्स का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।

 
व्हाट्सऐप ने नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में अब क्या कहा है..?

जिसके परिणामस्वरूप, व्हाट्सएप ने अपनी नई गोपनीयता नीति के रोलआउट में देरी की है। लेकिन अब जैसा कि व्हाट्सएप एक बार फिर से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को रिलीज के लिए कमर कस रहा है। व्हाट्सऐप एक नए अभियान की मदद से अपनी गोपनियता नीति के बारे में फैल चुकी गलत सूचनाओं पर अंकुश लगाना चाहता है।

व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी में अपडेट

व्हाट्सऐप पर लोगों को अपनी नई गोपनीयता नीति को स्वीकार करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया गया है। जब कंपनी ने पहली बार नीतियों के बारे में एक घोषणा की, तो उसने उपयोगकर्ताओं को सेवा की शर्तों को स्वीकार करने या अपने व्हाट्सएप डिलीट कर देने की समय सीमा दी।

यह भी पढ़ें:- Signal App को पीसी और लैपटॉप में कैसे चलाएंयह भी पढ़ें:- Signal App को पीसी और लैपटॉप में कैसे चलाएं

इसने अधिकांश उपयोगकर्ताओं को परेशान किया क्योंकि यह उपयोगकर्ताओं को कुछ भी नियम और शर्तें को स्वीकार करने के लिए एक जबरन प्रयास की तरह लग रहा था। यह अनुमान लगाया गया था कि व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं की निजी बातचीत को पढ़ना और जानकारी को फेसबुक के साथ साझा करना चाहता है। जनवरी में, व्हाट्सएप ने इन-ऐप अधिसूचना के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को इसकी नीतियों में बदलाव के बारे में सूचित किया था। व्हाट्सएप ने कहा था कि नई सेवाएं 8 फरवरी को लाइव हो जाएंगी लेकिन बाद में तारीख को 15 मई कर दिया गया।

अब व्हाट्सएप क्या कह रहा है?

व्हाट्सएप अब उपयोगकर्ताओं को नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में शिक्षित करना चाहता है और नई नीतियों के बारे में गलत जानकारियों को दूर करना चाहता है। व्हाट्सऐप ने अपने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा है कि वो अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में उपयोगकर्ताओं को समझाएंगे और उन्हें ही इस नई पॉलिसी को रिव्यू करने का मौका भी देंगे। व्हाट्सऐप ने कहा है कि वो इस पॉलिसी के बारे में फैली सभी गलत जानकारियों का सामना करेंगे और हरेक भ्रम को दूर करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे।

 

Tap to Review का आएगा ऑप्शन

नए अभियान के तहत, व्हाट्सएप अब चैट विंडो के शीर्ष पर एक छोटा बैनर यूज़र्स को दिखाएगा। व्हाट्सएप एक-दो हफ्तों में यूजर्स के लिए छोटे बैनर उतारना शुरू कर देगा। बैनर के माध्यम से, व्हाट्सएप यूज़र्स को सूचित करेगा कि नीतियां कैसे बदलेंगी और व्हाट्सएप कितनी जानकारी इक्ठ्ठा करेगा।

यह भी पढ़ें:- Twitter में आया Voice Note भेजने का ऑप्शन, जानिए कैसे करेंगे इस्तेमालयह भी पढ़ें:- Twitter में आया Voice Note भेजने का ऑप्शन, जानिए कैसे करेंगे इस्तेमाल

उपयोगकर्ताओं को पहले नीतियों की समीक्षा करने और फिर उन्हें स्वीकार करने का विकल्प दिया जाएगा। बैनर चैट के शीर्ष पर दिखाई देगा और उन्हें पढ़ने के लिए, उपयोगकर्ताओं को "Tap to review" पर टैप करना होगा। इस तरह से व्हाट्सऐप अब बार-बार यूज़र्स को अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में जानकारी देता रहेगा और अंत में मई महीने में यूज़र्स को स्वीकार करने के लिए कहेगा।

व्हाट्सऐप यूज़र्स को समझाने में लगी

पहला स्टेटस: हम आपकी प्राइवेसी के लिए प्रतिबद्ध हैं।

दूसरा स्टेटस: व्हाट्सऐप की सभी चैट एंड टू एंड इंक्रिपटेड है और इसलिए हम किसी के भी कॉल और मैसेज को सुन या पढ़ नहीं सकते हैं।

तीसरा स्टेटस: व्हाट्सऐप आपके द्वारा शेयर की गई लोकेशन को देख नहीं सकता है।

चौथा स्टेटस: इस स्टेटस में भी कंपनी ने एक वीडियो के जरिए यूज़र्स को अपनी प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में जानकारी दी है और व्हाट्सऐप के मुताबिक जो भ्रम यूज़र्स के बीच में फैला है, उसे कंपनी साफतौर पर भ्रम ही साबित कर रही है।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
WhatsApp has delayed the rollout of its new privacy policy. But now as WhatsApp is gearing up to release its new privacy policy once again. WhatsApp wants to curb the misinformation spread about its privacy policy with the help of a new campaign.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X