बाबा रामदेव के स्वदेशी मैसेसिंग ऐप Kimbho के बारे में जानते हैं आप

By Bhawna Gupta

    योगगुरू बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि आयुर्वेद लिमिटेड ने पंतजलि सिम कार्ड के बाद व्हाट्सऐप को टक्कर देने के लिए Kimbho ऐप का निर्माण किया है। Kimbho ऐप सोमवार को लॉन्च होना था लेकिन एक बार फिर से इस ऐप की लॉन्चिंग को टाला गया है।

    पंतजलि के प्रबंध निर्देशक आचार्य बालकृष्ण ने ट्वीट कर जानकारी दी कि जल्द ही इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप Kimbho की नई लॉन्चिंग तारीख की घोषणा की जाएगी। उन्होंने लिखा कि Kimbho ऐप को सुरक्षित, सरल और सिक्योर बनाने के लिए ट्रायल, रिव्यू और अपग्रेडेशन का काम अभी जारी है।

    बाबा रामदेव के स्वदेशी मैसेसिंग ऐप Kimbho के बारे में जानते हैं आप

    क्या है Kimbho ऐप?

    दरअसल, Kimbho ऐप व्हाट्सऐप की ही तरह स्वदेशी इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप है, जिसको फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सऐप को चुनौती देने के लिए बनाया गया है। बता दें कि Kimbho ऐप को पहले भी एक बार मई में लॉन्च किया जा चुका है। लेकिन उस वक्त ऐप की सिक्योरिटी को लेकर काफी सवाल उठे थे। जिसके बाद ऐप को गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया गया था। हालांकि पतंजलि ने उस वक्त कहा था कि यह एक स्वदेशी कंपनी के खिलाफ विदेशी कंपनियों की साज़िश है।

    15 अगस्त को बाबा रामदेव ने 27 अगस्त को Kimbho ऐप लॉन्च करने की घोषणा की थी। लेकिन अब भी ऐप का अपग्रेडेशन जारी है। 15 अगस्त के दिन भी गूगल प्ले स्टोर पर ऐप का ट्रायल वर्जन देखा गया था लेकिन एक बार फिर डाउनलोड के करने के बाद यूजर्स को प्रोफाइल पिक्चर और यूजर इंटरफेस से संबंधित समस्याओं को सामना करना पड़ा था और फिर ऐप को प्ले स्टोर से रिमूव कर दिया गया था।

    व्हाट्सऐप की तरह काम करता है Kimbho

    Kimbho ऐप विडियो, पिक्स, डूडल, स्टीकर और जीआईएफ को सपॉर्ट करती है। Kimbho एक संस्कृत शब्द है जिसका मतलब है क्या चल रहा है और क्या खबर है? Kimbho ऐप के यूजर्स इसमें वीडियो कॉल भी कर सकते हैं। व्हाट्सऐप की तरह यूजर्स इस ऐप में ग्रुप्स बना सकते हैं। मगर ग्रुप वीडियो कॉल फीचर को लेकर अभी कोई जानकारी सामने नहीं आई है। ऐप के ज़रिए यूजर्स अपने दोस्तों के साथ अपनी लोकेशन शेयर कर सकते हैं। कंपनी का दावा है कि Kimbho भी व्हाट्सऐप की तरह एंड-टू-एंड इनक्रिप्टेड को सपॉर्ट करता है यानि मैसेज को सिर्फ सेंडर और रिसीवर ही पढ़ सकता है। इसके अलावा Kimbho घोस्ट चैट्स और मैसेज ऑटो डिलीट की भी सुविधा देता है।

    लेकिन एक्सपर्ट्स ने इस ऐप को सिक्योरिटी डिजास्टर करार दिया था और कहा था कि थोड़ी सी भी टेक्नीकल जानकारी रखने वाला व्यक्ति आसानी से इसको कंट्रोल कर सकता है। लिहाज़ा यह ऐप यूजर्स की प्राइवेसी के लिए खतरा है। रिसर्चर का ये भी कहना था कि Kimbho ऐप की टीम ने 'बोलो' नाम की एक ऐप को कॉपी किया है।

    English summary
    Patanjali Ayurved Ltd, a company of Yogguru Baba Ramdev, has built the Kimbho app to give the competition to the WhatsApp after the Patanjali SIM card. Acharya Balkrishna, managing director of Patanjali, tweeted and informed that soon Kimbho's new launch date will be announced. In this article, know all the special things of this app.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more