WhatsApp का बिजनेस टूल छोटे व्यापारों को बढ़ावा देने में करेगा मदद

    व्हॉट्सएप ने भारत में अपनी जगह मजबूत कर ली है। लगभग सभी लोग व्हॉट्सएप का इस्तेमाल कर रहे हैं। व्हॉट्सएप अब अपने प्लेटफॉर्म को और भी बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। बता दें, व्हॉट्सएप अपने बिजनेस टूल के जरिए भारत में छोटे उद्धमियों को बढ़ावा देना चाहता है। इस बात की जानकारी खुद व्हॉट्सएप ने साझा की।

    WhatsApp का बिजनेस टूल छोटे व्यापारों को बढ़ावा देने में करेगा मदद

     

    व्हॉट्सएप ने सोमवार को बताया कि छोटे उद्धमियों को बढ़ावा देने के लिए उसने कॉन्फडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (सीआईआई) के साथ साझेदारी की है। जो काफी सहायक साबित होगी। बता दें, व्हॉट्सएप अपने बिजनेस टूल के जरिए स्मॉल और मीडियम इंटरप्राइजिज (SMEs) और व्यवसारियों को लाभ पहुंचाएगा और उन्हें आगे बढ़ने में मदद देगा। मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के जरिए लघु उद्योग, व्यवसायी और कस्टमर्स एक-दूसरे के साथ जुड़ेंगे। जिससे उनके बिजनेस को बढ़ावा मिलेगा।

    कैसे करेगा काम

    व्हॉट्सएप और सीआईआई मिलकर इंडियन SMEs के लिए CII's SME टेक्नोलॉजी फेसिलिएशन सेंटर के जरिए बिजनेस कम्युनिकेशन को बढ़ाएंगे। बता दें, यह CII's SME टेक्नोलॉजी फेसिलिएशन सेंटर नवंबर 2016 में शुरू किया गया था। इसके जरिए स्मॉल और मीडियन व्यवसायियों के बिजनेस को बढ़ाया जाएगा।

    यह भी पढ़ें:- WhatsApp जल्द लेकर आएगा कई मजेदार फीचर्स

    इतना ही नहीं, व्हॉट्सएप और सीआईआई एक डेवलपमेंट इफॉर्मेटिव कंटेंट भी स्थापित करेंगे। यह व्यवसायियों के बीच फिजिकल एवं डिजिटल फॉर्मेंट में कंटेंट बांटेगा। वहीं, सीआईआई के एग्जेक्यूटिव नीरज भाटिया का कहना है कि केंद्र अपने प्रौद्योगिकी भागीदारों को अपने बाजार का विस्तार करने और अपने उत्पाद और सेवाओं के साथ देश भर में फैले एसएमई तक पहुंचने का अवसर प्रदान करता है। यह सेंटर भारत में SMEs टेक्नोलॉजीकल सॉल्यूशन के हेल्प के लिए सेटअप किया गया है। व्हॉट्सएप के पब्लिक पॉलिसी मैनेजर बेन स्पलाई का कहना है कि स्मॉल बिजनेसिस को उनके कस्टमर्स मिलने चाहिए, चाहे वो कही भी हो।

    Read more about:
    English summary
    Whatsapp said on Monday that it has partnered with the Confederation of Indian Industry (CII) to promote small hues. Which will be quite helpful. Whatsapp will benefit small and medium enterprises (SMEs) and managers through their business tools.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more