10 बातें, जो एपल नहीं चाहता कोई जानें..!!

Posted By:

    एपल टेक दुनिया का जाना-माना नाम है। एपल के प्रोडक्ट्स लोगों के लिए दिलों में राज करते हैं। हर व्यक्ति एपल के फोन, लैपटॉप या कोई अन्य प्रोडक्ट इस्तेमाल करना चाहता है।

    आ गया दुनिया का सबसे छोटा सोने का फोन!

    कंपनी के पिछले साल लॉन्च हुए iphone 6 कंपनी का सबसे फोन रहा, इस फोन ने लॉन्च के साथ ही कई रिकॉर्ड भी बनाए। हाल ही में कंपनी ने इसी सफलता को देखते हुए अपने नए iphone 6s व iphone 6 प्लस भी बाजार में उतारे, जिन्हें काफी जबरदस्त रिस्पांस मिला।

    ओह माय गॉड! एक साल में इतनी सेल्फी!
    अब अगर हम ये कहें कि एपल के कई ऐसे भी प्रोडक्ट्स हैं जिनको काफी ज्यादा बुरा रिस्पांस मिला। जी हां! कंपनी के प्रोडक्ट्स सबसे बड़े फेलियर के रूप में सामने आए। कंपनी के कई सफल प्रोडक्ट्स के साथ एक काफी असफल प्रोडक्ट की कहानी भी जुड़ी है।

    अब बिना ऑनलाइन आए व्हाट्सएप पर करें रिप्लाई

    देखिए एपल के कुछ ऐसे ही प्रोडक्ट्स जो कंपनी नहीं छाती कोई भी याद रखे--

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    एपल लिसा कंपनी प्रोजेक्ट की शुरुआत उस वर्ष हुई जिस वर्ष स्टीव की बेटी पैदा हुई। कहा जाता है स्टीव ने अपनी बेटी के नाम पर ही इसका नाम लिसा रखा। इस प्रोजेक्ट के पूरा होने में 1883-1886 का समय लगा। इसकी कीमत 10,000$ रखी गई थी। कंपनी का यह प्रोडक्ट काफी बुरी तरह फ़ैल हुआ। कहा तो ये भी जाता है कि कंपनी ने इसके बाकि बचे सेट को नष्ट कर दिया था।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    कंपनी का एक और बढ़ी असफलता रही एपल III। इस प्रोजेक्ट की शुरुआत सन 1978 में हुई थी। इस कंप्यूटर का मदरबोर्ड काफी जल्दी गर्म हो जाता था। कहते हैं कि ऐसा इसलिए था क्योंकि स्टीव ने इससे कुलिंग फैन हटा देने को कहा था, उनसे काफी शोर होता था इसलिए।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    एपल ने मोटोरोला के साथ मिलकर यह फोन निकाला था। यह पहला फोन था जिसमें एपल का itunes सॉफ्टवेयर दिया गया था। यूजर इस फोन में itunes से 100 गाने ट्रान्सफर कर सकते थे। फोन के लिए एक बुरी बात साबित हुई जब स्टीव फोन को प्रेजेंट कर रहे तब वे कॉल लेने से म्यूजिक प्ले करने के लिए स्विच नहीं कर सके। इस फोन में यूजेबल मेमोरी भी काफी कम दी गयी थी।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    कंपनी का यह प्रोडक्ट सितम्बर 1989 में लॉन्च हुआ था। लेकिन यह अपने नाम के थोड़ा विपरीत साबित हुआ, क्योंकि इसका वजन 16 पाउंड से भी अधिक था। इसकी कीमत भी इसके हिसाब से काफी अधिक 6,500$ थी। इसका बैटरी सिस्टम भी इसके लिए विफल होने का कारण साबित हुआ।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    क्या आप जानते हैं कि एपल ने अपना गेमिंग सिस्टम बनाने की भी कोशिश की थी। जी हां! बन्दाई पिप्पिन एपल का गेमिंग सिस्टम था जो 1995 में लॉन्च हुआ। एपल के कई अन्य असफल प्रोडक्ट्स की ही तरह इस प्रोडक्ट की कीमत भी काफी ज्यादा थी। यह 400$ की कीमत मेंपेश किया गया था।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    एलसीडी स्क्रीन वाले पहले डेस्कटॉप में से एक था एपल का के साथ लॉन्च हुआ 20Th Anniversary Mac। कंपनी ने इस ख़ास मौके को और ख़ास बनाने के लिए यह डेस्कटॉप लॉन्च किया। इसकी कीमत तय की गयी 8,000 डॉलर। कंपनी ने इसके 12,000 सिमित यूनिट बनाए थे।

    लेकिन प्रोडक्ट के फ़ैल होने पर इसकी कीमत घट कर 2,000 डॉलर कर दी गयी।

     

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    मोबाइलमी की असफलता इतनी बढ़ी थी कि स्टीव ने मोबाइलमी की पूरी टीम को एक साथ कैंपस ऑडिटोरियम में बुलाकर टीम के मेनेजर को नौकरी से ही निकाल दिया। बाद कई इंजिनियर का यह भी कहना था कि इस प्रोडक्ट की असफलता के पीछे कहीं न कहीं स्टीव का ही हाथ था।

     

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    एपल का मैकिनटोश टीवी कंपनी का पहला कंप्यूटर व टेलीविज़न का मिला हुआ रूप था। यह 1993 में पेश किया गया था। इसकी करीब 10,000 यूनिट्स की ही बिक्री हुई थी।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    यह म्यूजिक पर आधारित कंपनी का एक सोशल नेटवर्किंग प्रोग्राम था। इसे कंपनी ने 2010 में लॉन्च किया था।

    ये हैं कंपनी के सबसे बड़े फेलियर

    एपल के सबसे महत्वकांशी प्रोजेक्ट में से एक था ई-वर्ल्ड। जल्द ही प्रोडक्ट मार्केट और यादों से गायब हो गया। यह 20, 1994 में पेश किया गया था।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    apple doesn't want you to know these embarrassments of company. Yes apple has some embarrassing failures of it. which can make a bad image of company.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more