बीटल ने लांच किया कम कीमत में मैजिक टैबलेट

Posted By: Staff

बीटल ने लांच किया कम कीमत में मैजिक टैबलेट

अन्‍य देशों की तरह भारत में टैब का क्रेज धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। पीसी बाजार में फोन निमार्ता कंपनी बीटल ने कुछ समय पहले मैजिक नाम से एंड्राएड टैबलेट लांच किया था जिसे एक बार फिर मैजिक सेंकेड के नाम से कंपनी ने दुबारा बाजार में पेश किया है। मैजिक सेकेंड में पिछले टैब के मुकाबले कई नए फीचरों को एड किया गया है। दमदार पावर प्रेसेसिंग के लिए मैजिक सेकेंड में 1 गीगा हर्ट प्रोसेसर के साथ 768 मेगाहर्ट का क्‍वॉल कॉम स्‍नैपड्रैगन प्रोसेसर इनबिल्‍ड है। टैब में 8जीबी की इंटरनल मैमोरी के अलावा 16 जीबी एक्‍टर्नल मैमोरी का ऑपशन मौजूद है।

7 इंच की डब्‍लू वीजीए स्‍क्रीन के साथ टैब की बॉडी में स्‍मूद ब्‍लैक फिनिशिंग दी गई है जो इसके लुक को और शानदार बनाती है। इसके अलावा टैब के बैक साइड में एक स्‍टैंड अटैच है जिसकी मदद से आप मूवी और वीडियों देखते समय टैब को आराम से कहीं भी रख सकते हैं। कनेक्‍टीविटी के मामले में मैजिक आपको निराश नहीं करेगा इसमें आप अपनी सुविधा अनुसार 2जी और 3जी में से किसी भी नेटर्वक का प्रयोग कर सकते हैं। टैब में दिया गया टच पैड भी काफी यूजर फ्रेंडली है जिसे प्रयोग करना काफी आसान है।

मैजिक सेकेंड में 2 मेगापिक्‍सल का हाईक्‍वालिटी फ्रंट और रियर कैमरा दिया गया है जो अच्‍छी वीडियो रिकार्डिंग करता है। टैब में 2200 एमएएच की लीथियम बैटरी अटैच है जो यूजर को लम्‍बा बैटरी बैकप प्रोवाइड करती है। टैब को दूसरी डिवाइस से कनेक्‍ट करने के लिए 3.5 एमएम जैक के साथ माइक्रो यूएसबी कनेक्‍टीविटी की सुविधा मौजूद है। बीटल के मैजिक सेकेंड टैब की कीमत बाजार में लोगों को अपनी ओर आकर्षित करेगी। बीटल ने अपने पिछले टैब को 9,999 रूपए में लांच किया था जबकि नए टैब मैजिक सेकेंड की कीमत 9,799 रूपए है जो पुराने वर्जन के मुकाबले कम है।

Please Wait while comments are loading...
PHOTOS: अल्कोहल बैन गुजरात में अवैध रूप से बियर लेकर जा रही कार का ऐक्सिडेंट, लोगो की हुई मौज और लूट ली बियर
PHOTOS: अल्कोहल बैन गुजरात में अवैध रूप से बियर लेकर जा रही कार का ऐक्सिडेंट, लोगो की हुई मौज और लूट ली बियर
बहन के ससुर के लिए हिमाचल चुनाव में बीजेपी का प्रचार करेंगे सलमान खान
बहन के ससुर के लिए हिमाचल चुनाव में बीजेपी का प्रचार करेंगे सलमान खान
Opinion Poll

Social Counting