कार्बन स्‍मार्ट टैब 3 ब्‍लेड और माइक्रोमैक्‍स फनबुक टॉक

Posted By:

कार्बन स्‍मार्ट टैब 3 ब्‍लेड और माइक्रोमैक्‍स फनबुक टॉक

हर दिन इंडियन टेक्‍नालॉजी बाजार में कुछ नया लांच हो रहा है। फिर वो चाहे स्‍मार्टफोन हो या टैबलेट। कार्बन मोबाइल ने पिछल हफ्ते दो टैबलेट लांच किए थे स्‍मार्टटैब 9 मारवल और स्‍मार्टटैब 3 ब्‍लेड इसी समय माइक्रोमैक्‍स ने भी कार्बन से टक्‍कर लेने के लिए फनबुक टैबलेट को बाजार में उतारा था। दो कंपनियों के टैबलेट की कीमत में कोई खास अंतर नहीं है। साथ ही स्‍मार्टटैब और फनबुक में दिए गया आईसीएस प्‍लेटफार्म भी एक ही जैसा है। चलिए जानते हैं दोनों टैबलेटों में दिए गए कुछ दूसरे फीचरों के बारे में और देखते हैं दोनों में कौन सा टैबलेट ज्‍यादा बेहतर है।

साइज और वेट

स्‍मार्टटैब 3 के बारे में कंपनी ने अभी कोई खुलासा नहीं किया है लेकिन फनबुक का साइज 192 X 122 X 10.5 एमएम और वेट 225 ग्राम है।

डिस्‍प्‍ले

स्‍मार्टटैब 3 और फनबुक टॉक में 7 इंच की स्‍क्रीन के साथ कैपेसिटिव टच स्‍क्रीन दी गई है जो 800 x 480 रेज्‍यूलूशन को सपोर्ट करती है।

प्रोसेसर

स्‍मार्टटैब 3 में 1.2 गीगाहर्ट का प्रोसेसर दिया गया है जिसके मुकाबले फनुबक टॉक में 1 गीगाहर्ट का प्रोसेसर इनबिल्‍ड है।

ऑपरेटिंग सिस्‍टम

दोनों टैबलेटों में एंड्रॉयड 4.0 आईस्‍क्रीम सैंडविच ओएस इनबिल्‍ड है।

कैमरा

स्‍मार्टटैब 3 में 1.3 मेगापिक्‍सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है जबकि फनबुक टॉक में 0.3 मेगापिक्‍स्‍ल फ्रंट कैमरा मौजूद है। जबकि दोनों टैबलेटों में रियर कमरा नदारद है।

स्‍टोरेज

मैमोरी की ओंर नजर डालें तो दोनों टबलेटों में 4 जीबी इंटरनल मैमोरी के साथ 512 एमबी रैम, माइक्रोएसडी कार्ड स्‍लॉट फीचर मौजूद है जिसकी मददसे 32 जीबी तक मैमोरी एक्‍सपेंड कर सकते हैं।

कनेक्‍टीविटी

टैबलेट्स में वाईफाई, जीपीआरएस, माइक्रोयूएसबी 2.0 पोर्ट।

बैटरी

स्‍मार्टटैब 3 में 2,600 एमएएच की लियॉन बैटरी दी गई है जिसके मुकाबले फनबुक टॉक में 2,800 एमएएच की लियॉन बैटरी इनबिल्‍ड है जो 4 से 5 घंटे का बैटरी बैकप देती है।

कीमत

स्‍मार्टटैब 3 ब्‍लेड बाजार में 5,990 रुपए में उपलब्‍ध है जबकि फनबुक टॉक की कीमत 7,499 रुपए है।

स्‍मार्टटैब ब्‍लेड में जहां लेटेस्‍ट और फास्‍ट प्रोसेसर के साथ बेहतर कैमरा दिया गया है वहीं फनबुक में पिकासा, यूट्यूब और डाक्‍यूमेंट व्‍यूवर का फीचर मौजूद है।

Read in English

Please Wait while comments are loading...
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting