चप्पे-चप्पे पर नजर रखेगा भारतीय वायु सेना का ये ड्रोन

Posted By:

भारत आज एक शक्तिशाली देश है। हर क्षेत्र में देश ने कई उपलब्धियां हासिल की है। तकनीक के क्षेत्र में भी भारत आगे बढ़ रहा है। भारत की वायु सेना जल्द ही अब एक स्पाई ड्रोन का इस्तेमाल करेगी। इस ड्रोन का साइज़ हमिंग बर्ड जितना है। यानी इसे खुली आँखों देख पाना एक तरह से नामुमकिन है।

ऑफिस की प्रॉब्लम को दूर करेंगी डेस्क एक्सेसरीज

ये देखने में जितना छोटा है उतने ही बड़े और कमाल के इसके फीचर्स हैं। स्लाइडर में देखिए इस छोटे ड्रोन के बड़े कमाल--

गूगल हैक्स जिनकी आपको पड़ सकती है जरुरत

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

1

इस छोटे से ड्रोन का वजन केवल 18 ग्राम है.

2

इस ड्रोन की लम्बाई केवल 16 सेमी है.

3

यह ड्रोन उड़ते समय कोई आवाज नहीं करता। ऐसे में इस पर ध्यान जाना बेहद मुश्किल है।

4

इस छोटे से ड्रोन में तीन कैमरे दिए गए हैं इसका कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता।

5

इस ड्रोन की रेंज 1.6 किमी है। यह आप के आस पास 1.6 किमी सीमा तक घूम सकता है।

6

यह ड्रोन हवा में लगातार 25 मिनट तक रह सकता है।

7

यह एक गुप्त ड्रोन की तरह काम करेगा। इसे देख पाना मुश्किल है।

8

यह ड्रोन रात में भी काम कर सकता है।

9

इस ड्रोन में इस्तेमाल हुए तीन कैमरे में से एक थर्मल कैमरा भी है।

10

यह छोटा सा दिखने वाला ड्रोन वैदरप्रूफ भी है। इस पर पानी का कोई असर नहीं होगा।

11

यह ड्रोन कॉम्बैट प्रूवन है। लड़ाई में इसका प्रयोग किया जा सकता है।

12

इसे आसानी से हैंडल किया जा सकता है। इसे हैंडल करने के लिए एक ही इंसान काफी है।

13

यह ड्रोन काफी मजबूत है। इन्हें युद्ध में इस्तेमाल किया जा सकता है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
indian arm force is soon going to use stealthy humming bird sized drone. This drone can cover 1.6 km area around you. It is a robust drone and is very much perfect to be used in wars.
Please Wait while comments are loading...
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
बाहुबली और श्रीदेवी समेत 24 दुर्लभ मूर्तियों को विदेशों से वापस ला चुकी है मोदी सरकार
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
SOLAR ECLIPSE 2017: साल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रहण हुआ खत्म
Opinion Poll

Social Counting