PUBG की गलत ख़बर सोशल मीडिया पर हुई वायरल

    |

    सोशल मीडिया काफी ज्यादा मजबूत है। हर चीजें सोशल मीडिया में आसानी से पाई जा सकती है। सोशल मीडिया काफी असरदार है, जिसके चलते कोई भी नेगिटिव चीजें हमारे ऊपर काफी असर छोड़ती हैं। कई बार सोशल मीडिया में फैली खबरें सच होती हैं, तो कभी झूठ। चाहे इंस्टेंट मैसेंजर हो या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, झूठी खबरें आग की तरह फैल जाती हैं।

    PUBG की गलत ख़बर सोशल मीडिया पर हुई वायरल

     

    सोशल मीडिया में काफी समय से PUBG Mobile गेम काफी चर्चा में है। यह गेम केवल भारत में ही नहीं दुनियाभर में मश्हूर है। भारत में इसे काफी खेला और पसंद भी किया जा रहा है। लगभग सभी उम्र के लोग इस गेम को काफी पसंद कर रहे हैं। हालांकि इस बढ़ती पॉप्युलेरिटी के चलते PUBG Mobile गेम भारत में गेम फेक न्यूज का शिकार हो रहा है।

    महाराष्ट्र कोर्ट ने जारी किया नोटिस ?

    PUBG Mobile को लेकर फेसबुक और ट्विटर में तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें बताया गया है कि महाराष्ट्र के हाई कोर्ट ने PUBG Mobile गेम को बैन कर दिया है। बता दें, यह नोटिस गेमिंग कम्युनिटी में बहुत शेयर की जा रही है और प्लेयर्स इससे काफी निराश भी नजर आ रहे हैं। अगर आप भी इस खबर से परेशान हैं तो बता दें, कि यह खबर एकदम झूठ है। फैली गई तस्वीर को ध्यान से देखा जाए तो गलत तरह से लिखे वाक्य को देखने पर साफ पता चलता है कि यह कोर्ट के ऑर्डर का नोटिस लेटर नहीं है।

    यह भी पढ़ें:- कम RAM वाले स्मार्टफोन PUBG खेलने का तरीका

    बता दें, लेटर में 'prejudge' के तौर पर K. Srinivasulu के साइन दिखाई दे रहा है, जबकी इस नाम से सिस्टम में कोई व्यक्ति मौजूद नहीं है। दरअसल इस नाम को कोई जज मौजूद नहीं हैं। सोशल मीडिया में PUBG Mobile गेम बंद होने को लेकर गलत और झूठी खबर फैलाई जा रही है। इतना ही नहीं, Esports ऑर्गनाइजर्स ने बताया कि Tencent Games को कोर्ट की तरफ से कोई भी नोटिस नहीं मिला है। हालांकि भारत में PUBG Mobile की पॉप्युलेरिटी को देखते हुए इवेंट्स प्लान किए जा रहे हैं। जो लोगों को काफी पसंद आएगा।

    English summary
    PubG Mobile is becoming viral in Facebook and Twitter, which states that the High Court of Maharashtra has banned the PUBG Mobile game. Let me tell you, this notice is being shared a lot in the gaming community and the players are also quite frustrated. If you are also troubled by this news, then tell that this news is wrong.

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more