स्टुडियो लाइटिंग: 4 साधारण तकनीक जो आप घर पर अपना सकते हैं

|

स्टुडियो लाइटिंग सेटअप 1- रेम्ब्रेंडेंट

 

डेप्थ के साथ आर्टिस्टिक शॉट लेने के लिए लाइटिंग की यह तकनीक बेहतर है

सिल्वर छतरी के साथ एक फ्लैश हैड को मॉडल से 45 डिग्री के एंगल पर 6 फीट ऊंचाई पर लगाएँ। इससे साइड और ऊपर से स्ट्रॉंग और हार्ड लाइट पैदा होगी। इसे की-लाइट कहा जाता है। इस पोजीशन में मॉडल के दूसरी तरफ एक रिफ़्लेक्टर भी लगा दें ताकि परछाई वाले हिस्से में लाइट बाउंस बैक हो। सबजेक्ट के फेस पर छोटा त्रिकोण बने – इसे रेम्ब्रेंडेंट लाइटिंग कहा जाता है।

स्टुडियो लाइटिंग: 4 साधारण तकनीक जो आप घर पर अपना सकते हैं

इसमें आपको आवश्यकता है:

• एक फ्लैश हैड

• एक रिफ़्लेक्टर

• दो लाइट स्टेंड

स्टुडियो लाइटिंग सेटअप 2- क्लेम्शेल

ईवन लाइट के साथ हर डिटेल को कैप्चर करने के लिए यह लाइटिंग कारगर है

इसमें लाइटिंग फ्लेट और ईवन होती है इसलिए ब्यूटी इमेज के लिए यह सेटअप सही है। इसे पैदा करना आसान है। इसमें आपको सबजेक्ट के दोनों तरफ समान एंगल और समान दूरी पर दो सॉफ्ट बॉक्स लगाने होते हैं। पावर को सेट करें ताकि यह सभी जगह समान रहे। चेहरे के नीचे रिफ़्लेक्टर लगा कर देख सकते हैं – आपका मॉडल इसे पकड़ सकता है। इससे चहरे पर लाइट बाउंस होगी।

 
स्टुडियो लाइटिंग: 4 साधारण तकनीक जो आप घर पर अपना सकते हैं

आपको ज़रूरत है:

• 66 सेमी के 2 सॉफ्ट बॉक्स

• एक रिफ़्लेक्टर

• दो लाइट स्टेंड

स्टुडियो लाइटिंग सेटअप 3 – बैक लाइट

रियर लाइट्स के साथ डेप्थ और ड्रामा क्रिएट करने के लिए यह स्टुडियो लाइटिंग तकनीक इस्तेमाल की जाती है।

ड्रामा पैदा करने के लिए, अपनी एक लाइट पर हनीकोम्ब या स्नूट एसेसरी इस्तेमाल करें। इसे हम मॉडल के पीछे कैमरा की ओर मुंह करके रखेंगे, जिससे उसके सिर के पीछे लाइटिंग होगी। किसी फोटो को बैकग्राउंड के अलग दिखाने और ड्रामा और डेप्थ एड करने के लिए इस तरह की लाइटिंग काम में ली जा सकती है। ध्यान रहे कि लाइट दिखे नहीं।

स्टुडियो लाइटिंग: 4 साधारण तकनीक जो आप घर पर अपना सकते हैं

इसमें आवश्यकता है:

• दो फ्लैश हैड

• एक 66 सेमी सॉफ्टबॉक्स

• एक रिफ़्लेक्टर

• एक हनीकोम्ब

स्टुडियो लाइटिंग सेटअप 4 – रिम लाइटिंग

बेहतर स्टाइल क्रिएट करने के लिए यह लाइटिंग तकनीक काम में ली जा सकती है।

दोनों लाइट्स को सबजेक्ट के पीछे कैमरा की ओर मुंह करके रख दें। इस सेटअप में जुराब से ट्विकिंग की जा सकती है, जिससे कि बॉडी शेप सही तरह दिखती है। इसमें आपको लेंस फ्लेर का ध्यान रखना होगा क्यों कि लाइट्स कैमरे के ओर मुंह करी हुई होती हैं। बर्न डोर, लेंस हुड और शील्ड के सेट से इसे ठीक किया जा सकता है।

स्टुडियो लाइटिंग: 4 साधारण तकनीक जो आप घर पर अपना सकते हैं

इसमें ज़रूरत है:

• दो फ्लेश हैड

• एक रिफ़्लेक्टर

 
Best Mobiles in India

Read more about:
English summary
These easy and simple photography lighting tricks can give you the perfect shot. Read more detail in Hindi.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X