मैकबुक कीबोर्ड बैकअप लाइट को कैसे करें सेट

Written By:

क्‍यूपर्टिनो कम्‍पनी एप्‍पल, पहली ऐसी कम्‍पनी है जिसने आधिकारिक रूप से कीबोर्ड लाइटिंग को प्रदान किया है। यह तकनीकी, कम रोशनी में भी यूजर्स को लैपटॉप पर काम करने सुविधा प्रदान करती है।

मैकबुक कीबोर्ड बैकअप लाइट को कैसे करें सेट

एप्‍पल लैपटॉप के इस्‍तेमाल के दौरान, कम रोशनी होने पर या अंधेरा होने पर, ये कीबोर्ड सहायक साबित होते हैं और इनकी एलईडी रोशनी में आसानी से काम को निपटाया जा सकता है।

यह रोशनी कीबोर्ड पर टाइप करने के लिए पर्याप्‍त होती है, अगर किसी को कीबोर्ड चलाने की बहुत अच्‍छी प्रैक्टिस नहीं है। मैकबुक यूजर्स को इस यूएसपी से काफी फायदा होता है। इसी बारे में आज हम आपको अपने आर्टिकल में कुछ बताने जा रहे हैं जिसे पढ़ने से आपको फायदा होगा।

खरीदने से पहले जान लें रिलायंस जियो से जुड़ी ये जरुरी बातें

मैक और लाइट सेंसर को एडजस्‍ट करें -

जब आसपास की रोशनी, सीधे लाइट सेंसर पर पड़ती है तो यह मैकबुक के इल्‍युमिनिशेन इंडीकेटर और नियंत्रण को अक्षम बना देता है या उसे लॉक कर देता है। ऐसी स्थिति में, अपनी मैकबुक को एडजस्‍ट करें और ताकि सीधी रोशनी उस पर न पड़ने पाएं। फ्रंट कैमरे के सामने रोशनी पड़ने पर भी दिक्‍कत हो सकती है।

मैकबुक कीबोर्ड बैकअप लाइट को कैसे करें सेट

कीबोर्ड की बैकलाइट को कंट्रोल करना -

मैकबुक कीबोर्ड बैकअप लाइट को कैसे करें सेट

कीबोर्ड की बैकलाइट को आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है। इसे आप एफ5 करके आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं या एफ6 का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। यह सेट करने का मैनुअल तरीका है। वरना अन्‍य तरीके निम्‍न हैं:

  • एप्‍पल मैन्‍यु के सिस्‍टम प्रिफरेंस में जाएं और वहां से कीबोर्ड सेटिंग में जाकर कीबोर्ड को सेट कर दें। 
  • अब आपके सामने, ''ऑटोमैटिक इल्‍युमिनेट कीबोर्ड इन लो लाइट'' का ऑप्‍शन आ जाएगा, इसे सेट करें।

बेहद कम कीमत में मोटोरोला ने उतारा मोटो ई3 पॉवर

एसएमसी को रिसेट करना -

क्‍या आपको कीबोर्ड की लाइट को सेट करने के लिए एसएमसी को रिसेट करना होगा। दरअसल, एसएमसी यानि सिस्‍टम मैनेजमेंट कंट्रोलर, हार्डवेयर ऑप्‍शन और सिस्‍टम लेवल पॉवर फंक्‍शन की वैरायटी पर नियंत्रण रखता है।

मैकबुक कीबोर्ड बैकअप लाइट को कैसे करें सेट

हालांकि, अगर आप जब किसी भी तरह से कीबोर्ड की सेटिंग लाइट के मामले में नहीं कर पाते हैं तो ऐसा करें। यह अंतिम विकल्‍प होना चाहिए।



Read more about:
English summary
Cupertino giant Apple is the first company to mass produce the commercially available keyboard backlighting in laptops back in 2003. In fact, these backlit technology makes it easier to type during the dim light situation. As it uses low power LED, it won't affect the battery much if we use it at a reasonable level.
Please Wait while comments are loading...
VIDEO: हिंदू महासभा नेता ने दी पीएम मोदी को सत्ता से हटाने की खुली चुनौती
VIDEO: हिंदू महासभा नेता ने दी पीएम मोदी को सत्ता से हटाने की खुली चुनौती
  कुलदीप यादव ने भारत को 26 साल बाद ODI में दिलाई हैट्रिक
कुलदीप यादव ने भारत को 26 साल बाद ODI में दिलाई हैट्रिक
Opinion Poll

Social Counting