ब्लोक्ड साइट्स को ऐसे करें एक्सेस

By: Gauri Shankar sharma

ऑफिस या कॉलेज में फ्री इंटरनेट को एक्सेस करना हम सभी को अच्छा लगता है। लेकिन ये क्या आपने अपनी मर्जी की साइट खोली तो पता चला कि यह साइट को ब्लॉक है। आज 4जी के जमाने में भी यदि आपको साइट्स ब्लॉक मिलें तो आपको बुरा तो बहुत लगेगा। लेकिन ऐसे कारण होते हैं जिनके चलते ये साइट्स ब्लॉक की जाती हैं। लेकिन हम आपको बताएँगे इन साइट्स को एक्सेस करने का तरीका।

ब्लोक्ड साइट्स को ऐसे करें एक्सेस

पिछले कुछ सालों में, इंटरनेट सेंसरशिप बहुत से देशों में बढ़ी है और इससे कई सारी साइट्स और सर्विसेस को कई देशों में ब्लॉक भी कर दिया जाता है। इसके अलावा स्कूल, कॉलेज या ऑफिसों में भी कई साइट्स मैनेजमेंट द्वारा ब्लॉक की जाती हैं।

सामान्यतः सोशियल मीडिया, पॉप कल्चर, स्वास्थ्य, मेडिसन, धर्म, राजनीति से जुड़ी साइट्स ब्लॉक की जाती हैं। आज हम आपको बताते हैं कि इन ब्लॉक साइट्स को कैसे एक्सेस करें।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

कैशे

अधिकतर सर्च इंजन्स उनके द्वारा इंडेक्स किए गए वेब पेज के कैशे मैनेज रखते हैं। आप उस वेबसाइट पर जाने के बजाय, आप उसी वेब पेज की कैशे कॉपी को भी ओपन कर सकते सकते हैं जो कि आपको गूगल या अन्य सर्च रिजल्ट में मिल जाएगा।

डीएनएस

कई बार, आपके आईएसपी द्वारा अधिकतर साइट्स ब्लॉक कर दी जाती हैं। ऐसे में आप डीएनएस सर्वर को रिकन्फ़िगर कर सकते हैं। डीएनएस सर्वर एक खास रिक्वेस्ट पर आईपी एड्रेस को रिजोल्व करता है। जहां साइट्स ब्लॉक हैं वहाँ कई डीएनएस रिक्वेस्ट किए गए डेटा पैकेट्स को सर्वर्स के द्वारा रूट कर सकते हैं।

प्रोक्सी सर्वर्स

आज इंटरनेट पर कई प्रोक्सी वेबसाइट्स उपलब्ध हैं जो कि ब्लोक्ड या बंद की गई साइट्स को अपने सर्वर से ओपन करती हैं और डेटा प्रजेंट करती हैं। प्रोक्सी आपके वेब रिसोर्स की कैशे कॉपी भी रख सकती है, जिससे वेबसाइट तेज चलती हैं।

15000 रुपए में मिल रहा है iPhone X, लेकिन खरीदने से पहले जान लें ये!

वीपीएन

वीपीएन और वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क आपको बाहर से विशेष नेटवर्क पर कनेक्ट कर देता है। इसके अलावा यह स्पेसिफिक प्राइवेट नेटवर्क को शेयर्ड पब्लिक नेटवर्क पर एक्सटेंड करता है मानो कि जैसे वह सेम प्राइवेट नेटवर्क हो। इसमें प्रोक्सी वेबसाइट के बजाय ऐननिमिटी (अनामिकता) रहती है। यह ब्लॉक्ड साइट्स द्वारा ट्रांसफर डेटा को एन्क्रिप्ट भी करता है।

एनवाईयूडी.नेट (Nyud.net)

ब्लॉक की गई साइट्स को एक्सेस करने के लिए आप वेबसाइट यूआरएल Nyud.net पर भी जा सकते हैं।

आईपी छिपाना

कई बार, वेबसाइट्स कुछ आईपी एड्रेस को ब्लॉक करती हैं ताकि वे उसका एक्सेस ना कर सकें। ऐसे में, आप आईपी हाइडिंग सॉफ्टवेर काम में ले सकते हैं। जिससे कि आपकी आईडी छिपी रहेगी और आप इस वेबसाइट को एक्सेस कर पाएंगे।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज



English summary
Internet censorship has grown widely in some countries and a lot of services, on the other hand, have restricted access to specific countries.
Please Wait while comments are loading...
#INDvsAUS: धोनी की जादूई स्टंपिंग ने बदला मैच का रुख, देखें वीडियो
#INDvsAUS: धोनी की जादूई स्टंपिंग ने बदला मैच का रुख, देखें वीडियो
इस खिलाड़ी से कोहली ने कहा- 'कैच पकड़ना नहीं आता तो स्लिप में खड़ा क्यों होता है'
इस खिलाड़ी से कोहली ने कहा- 'कैच पकड़ना नहीं आता तो स्लिप में खड़ा क्यों होता है'
Opinion Poll

Social Counting