एंड्रायड फोन में ऐसे बदलें आइकॉन्स का नाम

Written By:

एंड्रायड डिवाइस का इस्तेमाल सबसे अधिक किया जाता है। इसलिए जाहिर है कि सबसे अधिक शिकायतें एंड्रायड फोन यूज़र्स को ही होती हैं। हालाँकि आज के एंड्रायड स्मार्टफोन काफी स्मार्ट हो चुके हैं, और इनमें किसी तरह की कोई कमी शायद ही देखी जा सकती हो। हां, ऐसी कई चीजें हैं जो यूज़र्स अब भी उम्मीद करते हैं, जैसे एक सिंगल चार्ज पर दिनों दिन चलने वाली बैटरी।

एंड्रायड फोन में ऐसे बदलें आइकॉन्स का नाम

खैर हम यहां बैटरी की बात नहीं कर रहे हैं, हम यहां बात कर रहे हैं अपने एंड्रायड फोन के होमस्क्रीन पर सेव्ड आइकॉन की। एंड्रायड डिवाइस में जब भी कोई एप इंस्टॉल करो तो फोन की होम स्क्रीन पर एक शॉर्टकट क्रिएट हो जाता है, जिस पर डिफ़ॉल्ट नाम दिया गया होता है।

आज हम आपको एक ऐसी ही ट्रिक बताने जा रहे हैं जो आपके एंड्रायड फोन की स्क्रीन पर डिफ़ॉल्ट नाम से सेव आइकॉन का नाम बदलने में आपकी मदद करेगी।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

#1

इसके लिए आपको सबसे पहले अपने एंड्रायड फोन में क्विक शॉर्टकट मेकर नाम की एप को इंस्टॉल करना होगा। यह आपको गूगल प्ले स्टोर में आसानी से मिल जाएगी।

#2

एप को इंस्टॉल करने के बाद फोन में लॉन्च करें। इसके बाद आपको इस एंड्रायड फोन में इंस्टॉल की हुई एप्स की लिस्ट दिखाई देगी।

#3

अब आपको जिस एप का नाम बदलना है उस पर टैप करना होगा। इसके बाद आपको एप कि सभी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई देगी, जिसमें एक ऑप्शन आइकॉन के नाम बदलने का होगा।

#4

अब आपके स्क्रीन पर एक पॉपअप आएगा, आपको वो नाम फिल करना होगा जो आप सेट करना चाहते हैं। इसके बाद ओके पर टैप करें।

#5

अब आपको एक क्रिएट ऑप्शन दिखाई देगा, जिसमें आप एप का शॉर्टकट का क्रिएट कर पाएंगे। इसके बाद आपको एप डिस्प्ले करने के लिए रैंकिंग सेट करनी होगी।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज



English summary
How To Change The Icons Names On your Android phones Homescreen. Read more detail in Hindi.
Please Wait while comments are loading...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
Opinion Poll

Social Counting