क्‍या आपका फोन भी होता है कुछ ज्यादा गर्म!

Written By:

कई बार जब आप अपना फोन छूते हैं तो वह इतना ज्‍यादा गरम होता है कि आपको उसे बंद करना पड़ता है। स्‍मार्टफोन का हीट करना कोई नई बात नहीं है लेकिन यह चिंता का विषय है। फोन के गरम होने से उसकी परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है और उसके पुर्जों में भी खराबी आने का डर बना रहता है।

ऐसे मिनटों में फुल चार्ज हो जाएगा आपका स्मार्टफोन!

अगर आपके स्‍मार्टफोन में भी ऐसा होता है तो इस बारे में जानें कि ऐसा क्‍यों होता है और इस समस्‍या को किस प्रकार दूर किया जा सकता है।

स्मार्टफोन कैमरा की 9 स्मार्ट ट्रिक्स, जो आपको देंगी शानदार रिजल्ट!

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

स्‍मार्टफोन गर्म क्‍यूँ हो जाते हैं?

आपने हाईस्‍कूल में पढ़ा ही होगा कि मूवमेंट, गर्मी पैदा करता है। कोई भी हलचल या काम होने पर वहां ऊर्जा उत्‍पन्‍न हो जाती है और वही गर्मी बन जाती है। स्‍मार्टफोन में उत्‍पन्‍न होने वाली हीट, आपके फोन में पहुँचने वाली इलेक्ट्रि‍सिटी के बराबर ही होती है। अगर आप अपने फोन में हैवी गेम खेलते हैं तो इसमें हीट प्रॉब्‍लम आने की संभावना काफी ज्‍यादा है।

ओवरहीटिंग, चिंता का विषय है -

फोन का ज्‍यादा गर्म हो जाना, चिंता का विषय है। कभी-कभार गर्म होना और उसे बंद कर देने पर उसका ठीक हो जाना सामान्‍य बात है। लेकिन अगर आपका फोन, कई बार ओवरहीट हो जाता है तो आपको उसे किसी सर्विस सेंटर में दे देना चाहिए।

बार-बार ओवरहीटिंग का कारण -

जब स्‍मार्टफोन में कई सारी एप्‍लीकेशन एक साथ रन करने लगती है तो ऐसी समस्‍या आना सामान्‍य बात है। साथ ही स्‍मार्टफोन के सीपीयू पर जोर पड़ने पर भी फोन हीट करने लगता है। इसीलिए, एक साथ कई सारी एप पर काम न करें। बहुत सारे एप, विजेट्स, कनेक्टिीविटी के कारण, फोन में हीट हो सकती है। साथ ही, बैट्री को चार्ज करने के दौरान बात न करें।

ओवरहीटिंग के बाहरी कारक -

ऐसा नहीं है कि स्‍मार्टफोन में ओवरहीटिंग का प्रमुख कारण, फोन ही अंदर की हीट ही हो। फोन की ओवरहीटिंग के लिए बाहरी कारक भी जिम्‍मेदार होते हैं। धूप, गर्मी आदि के कारण भी कई बार फोन ओवरहीटिंग करने लग जाता है। ऐसे में फोन को छांव में थोड़े सामान्‍य तापमान वाली जगह पर रख दें।

बैट्री का नुकसान -

इन दिनों सभी स्‍मार्टफोन में लि-योन बैट्री आ रही है जो बेस्‍ट रिचार्जेबल बैट्री है। लेकिन अगर इन बैट्री को सही तरीके से चार्ज नहीं किया जाता है तो ये खराब होने लगती हैं। इस्‍तेमाल न होने पर ये बेकार हो जाती हैं। वहीं दूसरी ओर, ये बैट्री काफी सेंसटिव होती है और हीट भी बहुत जल्‍दी हो जाती हैं। 30 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान पर भी इनसे काफी हीट निकलने लगती है। इसीलिए, फोन को नियमित चार्ज करें और इस्‍तेमाल करते रहें। बैट्री खराब होने पर दूसरी ओरिजनल बैट्री डलवा दें।

बैट्री की ओवरहीटिंग से बचें -

अगर आपकी बैट्री फुल चार्ज हो चुकी है तो उसे अनप्‍लग कर दें। ज्‍यादा चार्ज करने से वो सिर्फ फोन को हीट करेगी, बाकी उससे कोई फायदा नहीं होगा। 30 से 80 प्रतिशत तक फोन को हमेशा चार्ज रखें।

एसओसी और ओवरहीटिंग

प्रोसेसर स्‍पीड, वास्‍तव में फोन की स्‍पीड को कंट्रोल करती है और फोन की हीटिंग के लिए भी काफी हद तक जिम्‍मेदार होती है। इससे आपके फोन का एसडी कार्ड खराब हो सकता है, अंदर की कुछ चिप बर्न हो सकती हैं। लेकिन ये सब बहुत ही रेयर मामलों में होता है।

एसओसी ओवरहीटिंग को प्रबंधित करें या रोकें

फोन को अोवरहीट होने से रोकने के लिए, हैवी गेम न खेलें। एक साथ कई एप को ओपन करके न छोड़ दें। लम्‍बे समय तक वीडियाे आदि देखने से बचें।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
Are You Facing Smartphone Overheating Issue? Here's All You Need to Know to Prevent It in hindi.
Please Wait while comments are loading...
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: नॉर्दन रेलवे के जीएम समेत 8 के खिलाफ एक्‍शन
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा: नॉर्दन रेलवे के जीएम समेत 8 के खिलाफ एक्‍शन
मुंबई: सड़क हादसे में दो टीवी एक्टर्स की मौत, कलर्स के एक सीरियल में काम करते थे दोनों
मुंबई: सड़क हादसे में दो टीवी एक्टर्स की मौत, कलर्स के एक सीरियल में काम करते थे दोनों
Opinion Poll

Social Counting