फोन में बैटरी कम है तो क्‍या करें

Posted By:

इस बात में कोई दो राय नहीं कि एंड्रॉयड स्‍मार्टफोन साधारण जावा फोन के मुकाबले ज्‍यादा बैटरी कंज्‍यूम करते हैं इसका सबसे बड़ा कारण है एक साथ ढेर सारी एप्‍लीकेशन को प्रयोग करना। आज हम आपको कुछ ऐसे तरीको के बारे में बताएंगे जिसकी मदद से आप अपने स्‍मार्टफोन का बैटरी बैकप पहले से ज्‍यादा बढ़ा सकते हैं साथ ही जरूरत पड़ने पर अपने फोन को कई दूसरे तरीको से चार्ज भी कर सकते हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

एक्‍ट्रा वाईफाई कनेक्‍शन ऑफ कर दें

अगर आपके फोन में बैटरी पॉवर कम है तो भूल कर भी ब्‍लूटूथ या फिर वाईफाई का प्रयोग न करें। क्‍योंकि वाईफाई और ब्‍लूटूथ जैसे फीचर काफी बैटरी बैकप लेते हैं फिर चाहे आप इन्‍हें प्रयोग करें या न करें। साथ में 3जी की जगह 2जी का प्रयोग करें क्‍योंकि 3जी फास्‍ट कनेक्‍टीविटी की वजह ज्‍यादा बैटरी बैकप लेता है।

फोन में बैटरी कंज्‍मशन चेक करें

सबसे पहले अपने स्‍मार्टफोन में कौन सी पॉवर सेटिंग सलेक्‍ट है उसे जांच लें इसके लिए फोन में दिए (Settings » About phone » Battery use) गए सेटिंग ऑप्‍शन में जाकर एबाउट फोन पर क्लिक करें और बैटरी यूज ऑप्‍शन चूनें यहां पर आपको पता चल जाएगा कि कहा पर आपकी सबसे जयादा बैटरी कंज्‍यूम हो रही है।

पॉवर इंवर्टर

अगर आपको लगता है कि आपके फोन को ज्‍यादा पॉवर की जरूरत पड़ती है या फिर ट्रैवलिंग करते समय अक्‍सर फोन का बैटरी बैकप खत्‍म हो जाता है। तो इसके लिए अपने बैगपैक में एक पॉवर सोर्स लेकर चलना बेहद जरूरी है। जैसे पॉवर इंवर्टर, पॉवर इनवर्टर की मदद से आप अपनी कार की बैटरी से अपना फोन चार्ज कर सकते हैं जैसे हमारे घर में लगा इनर्वटर बैटरी की डीसी पॉवर को एसी पॉवर में कनर्वट कर देता है वैसे ही पॉकेट पॉवर इनवर्टर कार की बैटरी पॉवर को ऐसी पॉवर में कनर्वट कर मोबाइल के अलावा दूसरी चीजें भी चार्ज कर सकता है।

जरूरत पड़ने पर 3जी प्रयोग करें

ज्‍यादातर एंड्रॉएड फोन में 2जी और 3जी दोनों की सुविधा मौजूद रहती है। लेकिन 2जी सर्विस के मुकाबले 3जी सर्विस ज्‍यादा पॉवर कंज्‍यूम करती है। इसलिए अगर आपको ज्‍यादा फास्‍ट इंटरनेट नहीं चाहिए तो 3जी की जगह 2जी में प्रयोग करें इसके लिए सबसे पहले सेटिंग में जाकर 3जी नेटर्वक की जगह 2जी नेटर्वक सलेक्‍ट कर लें। साथ ही फोन में वॉयरलैस कनेक्‍टीविटी को जरूरत न पड़ने पर ऑफ रखें। जैसे ब्‍लूटूथ, वाईफाई, ऐज

स्‍क्रीन बाइटनेस कम कर दें

स्‍मार्टफोन की स्‍क्रीन में दी गई ब्राइटनेस कम रखें क्‍योंकि टच स्‍क्रीन और बड़ा साइज होने की वजह से सबसे ज्‍यादा पॉवर स्‍क्रीन में ही लगती है। हालाकि साधारण टच स्‍क्रीन के मुकाबले एमोल्‍ड स्‍क्रीन में कम पॉवर कंज्‍यूम होता है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Please Wait while comments are loading...
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
Opinion Poll

Social Counting