प्लेस्टोर पर मौजूद नकली ऐप को ऐसे चुटकियों में पहचानें, स्कैमर की नहीं चलेगी मनमर्जी

|
प्लेस्टोर पर मौजूद नकली ऐप को ऐसे चुटकियों में पहचानें

स्मार्टफोन यूजर को मनोरंजन और उनके काम को काफी आसान कर दिया है। जैसे-जैसे स्मार्टफोन रखने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है, वैसे-वैसे ऐसे घोटालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है, जिनमें स्मार्टफोन यूजर को टारगेट करते हैं और उनको मैलवेयर एप्लिकेशन को डाउनलोड करने के लिए कहते हैं। इंटरनेट पर मौजूद स्कैमर आपकी पर्सनल जानकारी को चुराने के लिए इन ऐप का सहारा लेते हैं।

 

नकली एप्लिकेशन को इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि वे असली ऐप की तरह दिखें और काम करें ताकि लोग उन्हें डाउनलोड कर सकें। जब आप किसी थर्ड-पार्टी प्रोग्राम को डाउनलोड और इंस्टॉल करते हैं, तो वह आपकी जानकारी तक पहुंच के लिए पूछेगा। यूजर की जानकारी के बिना अक्सर संवेदनशील डेटा चोरी करने के लिए नकली एप्लिकेशन द्वारा दोष का उपयोग किया जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाले हैं जिसकी हेल्प से आप फेक ऐप को चुटकियों में पहचान सकते हैं.....

1. डेवलपर या पब्लिशर को जरूर चेक करें

डेवलपर के नाम का चयन करके लिंक को Google Play Store के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है। यह देखना न भूलें कि Google समाचार क्या पेश करता है। क्या हाल ही में इस डेवलपर से जुड़े कोई विवाद हुए हैं? क्या मूल कंपनी के बारे में हमें कुछ जानने की आवश्यकता है?

2. डाउनलोड और रिव्यु की संख्या

ऐप इनस्टॉल करने से पहले रिलीज डेट जरूर चेक करें। अगर किसी ऐप के लाखों डाउनलोड हैं लेकिन एक या दो साल से अधिक पुराना है, तो यह एक प्रमुख चेतावनी संकेत है। जब एक फेक ऐप में आपको अच्छी रेटिंग देखने को नहीं मिलेगी जबकि एक रियल ऐप की आम तौर पर अलग रेटिंग होती हैं। ऐप इंस्टॉल करने से पहले, रिव्यु और कमेंट को पढ़ना न भूलें।

 

3. लोगो और इमेज को देखें

जिस ऐप को आप डाउनलोड करना चाहते हैं, उसके लोगो पर ध्यान देना जरुरी है। एक नकली ऐप में आमतौर पर ओरिजिनल के समान डिज़ाइन होता है, लेकिन उनकी क्वालिटी अलग होती है। ईमानदार डेवलपर्स के पास अन्य लोगों के एप्लिकेशन के क्लोन या नॉक-ऑफ भी नहीं होंगे। सच्चा डेवलपर केवल एक बिक्री की पेशकश करेगा, एक अलग डाउनलोड नहीं बनाएगा।

4. रिलीज की तारीख जांचें

Google Play Store या Apple के ऐप स्टोर पर ऐप की रिलीज़ की तारीख देखें। डेवलपर के अन्य एप्लिकेशन को देखने से आपको संकेत भी मिल सकते हैं। यदि डेवलपर के पास बहुत कम संख्या में एप्लिकेशन हैं, फिर भी बेतुका डाउनलोड आंकड़े हैं, तो यह एक चेतावनी संकेत है।

5. रेगुलर अपडेट देखें

पता करें कि ऐप को कितनी बार और डेवलपर द्वारा अपडेट किया गया है। एक वैध ऐप में प्रोडक्ट के अपडेट की एक स्टेबिलिटी बनी होगी। फोनी एप्लिकेशन अपडेट प्राप्त नहीं करते हैं क्योंकि डेवलपर अपने यूजर को ठगने का इरादा रखता है और ऐप का उद्देश्य पूरा होने के बाद, यह डेवलपर के लिए बेकार हो जाता है।

 
Best Mobiles in India

Read more about:
English summary
Fake applications are designed to appear and act like real ones so that people would download them. When you download and install a third-party programme, it will ask for access to your information.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X