क्या है बेहतर लैपटॉप या डेस्‍कटॉप!

Posted By: Staff

आधुनिक युग में बढ़ती तकनीक के प्रवेश के साथ ही आज के समय में कंप्यूटर के बिना गुजारा नहीं है इसमें भी यूजर्स के सामने दो ऑप्शन आते हैं-डेस्कटॉप या लैपटॉप। हालाकि डेस्कटॉप की अपेक्षा अधिकांश लैपटॉप को तरजीह देते हैं। चूंकि इसके साथ आसानी से ट्रैवल किया जा सकता है। इसके अलावा, अनेक ऐसे कारण भी हैं जिसमें लैपटॉप डेस्कटॉप को पछाड़ देता हैं।

क्या आपने ट्राई किए वाट्सऐप्प के ये बेहतरीन ट्रिक्स!

चलिए जानते हैं इनको--

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

लैपटॉप या डेस्कटॉप

बढ़ती तकनीक व प्रतिस्पर्धा से कम्प्यूटर काफी सस्ते हुए हैं। इसके बावजूद लैपटॉप डेस्कटॉप से महंगा है। आपको एक अच्छा लैपटॉप जहां लगभग 35,000 रुपए का मिलेगा वहीं बेहतर डेस्कटॉप 25,000 रुपए में मिल जाएगा।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

बजट के अनुसार लैपटॉप की कनफिगरेशन मिलना मुश्किल होता है। कभी स्क्रीन छोटी तो कभी रैम कम या हार्डडिस्‍क कम। वहीं डेस्कटॉप में सीपीयू व मॉनिटर अलग-अलग होता है। इससे आपको इच्छानुसार सीपीयू व स्क्रीन साइज वाले मॉनिटर लेने में आसानी होती है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

लैपटॉप व डेस्कटॉप का सबसे प्रमुख भाग प्रोसेसर व रैम होता है। दोनों की स्पीड जितनी अधिक होगी कंप्यूटर उतना तेज काम करेगा। डेस्कटाॅप के प्रोसेसर को आसानी से अपग्रेड किया जा सकता है जबकि लैपटॉप में यह काम मुश्किल होता हे। हां, डेस्कटॉप व लैपटॉप दोनों में रैम को बढ़ाया जा सकता है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप में हार्ड डिस्क बढ़ाने का ऑप्शन होता है। इसमें एक साथ अनेक इंटरनल हार्ड डिस्क लगाई जा सकती हैं। इसके साथ-साथ एक्सटर्नल हार्ड डिस्क भी प्रयोग कर सकते हैं। लैपटॉप में इसे बढ़ाने का ऑप्शन नहीं होता। हां आप एक्सटर्नल हार्ड डिस्क का यूज कर सकते हैं।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

लैपटॉप का डिजाइन निरंतर बेहतर होता है जैसे यह लगातार पतला होता जा रहा है व अब मेटैलिक बॉडी में आ रहा है। वहीं डेस्कटॉप कैबिनेट में भी अब खूबसूरत लाइट आती है व इसे काफी छोटा किया गया है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप को यूजर्स अपने हिसाब से असेंबल करवा सकता है। जबकि लैपटॉप को कंपनी अपने हिसाब से बनाती है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप में आसानी से इंटरनल ग्राफिक्स कार्ड अपग्रेड हो सकता है जबकि लैपटॉप में यह काम महंगा और मुश्किल वाला होता है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप का कीबोर्ड या माउस खराब होने पर आसानी से सस्ते में मिल जाते हैं।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

एक समय-सीमा के बाद माउस पैड व कीबोर्ड या उसकी कुछ की खराब हो जाती हैं। इसको ठीक करवाने में ज्यादा पैसे लगते हैं।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप को अपडेट यानि रैम, ग्राफिक्स कार्ड, हार्ड डिस्क, टीवी ट्यूनर, प्रोसेसर आदि कर सकते हैं। वहीं लैपटॉप में रैम को छोड़कर बाकी हार्डवेयर अपडेट करना मुश्किल होता है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

लैपटॉप के खराब होने पर सर्विस सेंटर ले जाना पड़ता है जहां पर आपको कुछ समय लग सकता है। रिपेयरिंग खर्च भी अधिक होता है। वहीं डेस्कटॉप की रिपेयर सस्ती, आसान व हाथों-हाथ हो जाती है।

लैपटॉप या डेस्कटॉप

डेस्कटॉप की लाइफ लैपटॉप से कहीं अधिक होती है। चंूंकि कि लैपटॉप का उपयोग अलग-अलग जगह पर किया जाता है, पर डेस्कटॉप एक ही जगह रखकर उपयोग होता है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Read more about:
English summary
are you going to get a new laptop or you in mood to buy a desktop for your kid! wait have a look at these tips. they can help you in making your view clear to what you should get.
Please Wait while comments are loading...
नासा ने गूगल की मदद से खोजा हमारे जैसा आठ ग्रहों का सौरमंडल
नासा ने गूगल की मदद से खोजा हमारे जैसा आठ ग्रहों का सौरमंडल
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot