इस आर्टिकल को पढ़िए और "आधार कार्ड" का "एसएमएस एक्सपर्ट" बनिए

|

आजकल आधार कार्ड का इस्तेमाल भारत का लगभग प्रत्येक नागरिक करते हैं। भारत के गरीब से गरीब और अमीर से अमीर लोगों को भी आधार कार्ड की जरूरत पड़ती है। ऐसे में कभी-कभी में आधार कार्ड से संबंधित कुछ जरूरी काम पड़ जाते हैं और हमें उसके लिए किसी एक्सपर्ट की जरूरत पड़ जाती है। अगर हम आधार कार्ड की ट्रिक्स को जान लें तो हमें कभी भी किसी एक्सपर्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी।

इस आर्टिकल को पढ़िए और

 

आज हम अपने इस स्टोरी में आधार कार्ड से जुड़ी कुछ जरूरी टिप्स एंड ट्रिक्स के बारे में आपको बताएंगे, जिसको जानने के बाद आप भी आधार एक्सपर्ट बन जाएंगे। अपने इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जिसके जरिए आप सिर्फ एक एमएसएस के जरिए अपने आधार कार्ड का बहुत सारा काम कर पाएंगे।

"Aadhaar SMS सर्विस" क्या है...?

आधार कार्ड संख्या को जारी करने वाली कंपनी UIDAI एक नई सर्विस की शुरुआत की है। UIDAI ने इस सर्विस का नाम "Aadhaar SMS सर्विस" रखा है। इस सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को एक वन टाइम पासवर्ड यानि ओटीपी मिलता है, जिसका इस्तेमाल करके वो इस सर्विस का फायदा उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- क्या आपके आधार कार्ड का गलत इस्तेमाल हो रहा है...? ऐसे करें चेक...!

आपको बता दें कि भारत में बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जिनके पास स्मार्टफोन, लैपटॉप या इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें इंटरनेट का यूज़ करना नहीं आता है। ऐसे में उन लोगों के लिए आधार कार्ड की घर बैठी सर्विस का फायदा उठाना मुश्किल हो जाता है। अब यूआईडीएआई ने ऐसे लोगों के लिए इस एसएमएस सर्विस की शुरुआत की है।

इस सर्विस को शुरू करने के लिए आधार कार्ड उपभोक्ता को अपने रजिस्टर्ड नंबर से 1947 पर एक मैसेज करना होगा। इसके बाद यूजर्स आधार एसएमएस सर्विस का उपयोग कर पाएंगे। आइए आपको इसकी कुछ खास सर्विस को इस्तेमाल करने का तरीका बताते हैं।

 

आधार कार्ड को SMS करके लॉक करें

अगर कभी आपको अपना आधार कार्ड लॉक कराना हो तो आप घर बैठे सिर्फ अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से एसएमएस करके कर सकते हैं। इसके लिए आपको दो एसएमएस भेजने होंगे। सबसे पहले आपको ओटीपी पाने के लिए एक एसएमएस करना होगा।

यह भी पढ़ें:- आधार कार्ड के इस नए फैसले से करें नेपाल और भूटान की यात्रा

ओटीपी पाने के लिए आपको अपने रजिस्टर्ड नंबर से GETOTP <आधार कार्ड का आखिरी 4 अंक> लिखकर 1947 पर भेजना होगा। इस एसएमएस को भेजने के बाद कंपनी यानि UIDAI आपको एक 6 अंकों का ओटीपी भेजेगी।

इसके बाद आपको को दूसरा मैसेज भेजना होगा। इस मैसेज में आपको LOCKUID <आधार कार्ड का आखिरी 4 अंक> <ओटीपी> लिखकर 1947 पर भेजना होगा। .यहां ध्यान रखें कि पहले मैसेज करने के बाद जो ओटीपी आया था उसी को यहां दूसरे मैसेज में डालना होगा। इस प्रक्रिया को करने के बाद आपका आधार कार्ड लॉक हो जाएगा।

आधार कार्ड को SMS के जरिए अनलॉक कैसे करें

अपने आधार कार्ड को लॉक कराने के बाद अगर आप दोबारा उसे अनलॉक करना चाहते हैं तो वो भी घर बैठे सिर्फ दो एसएमएस भेजकर कर सकते हैं। इसके लिए भी प्रक्रिया लगभग एक जैसी ही है। सबसे पहले आपको अपने रजिस्टर्ड नंबर से GETOTP <आधार कार्ड का आखिरी 6 अंक> लिखकर 1947 पर भेजना होगा। इस एसएमएस को भेजने के बाद कंपनी यानि UIDAI आपको एक ओटीपी भेजेगी।

यह भी पढ़ें:- आधार पर "सुप्रीम" फैसला, अब हर जगह जरूरी नहीं होगा आधार कार्ड

इसके बाद आपको एक दूसरा मैसेज भेजना है। दूसरे मैसेज में आपको UNLOCKUID <आधार कार्ड का आखिरी 6 अंक> <ओटीपी> लिखकर 1947 पर भेजना होगा। .यहां ध्यान रखें कि पहले मैसेज करने के बाद जो ओटीपी आया था उसी को यहां दूसरे मैसेज में डालना होगा। इस प्रक्रिया को करने के बाद आपका आधार कार्ड अनलॉक हो जाएगा।

आधार कार्ड की वर्चुअल आईडी SMS के जरिए

UIDAI आधार कार्ड धारकों के लिए एक वर्चुअल आईडी भी जारी करता है। अगर आपका वर्चुअल आईडी खो गया है या आप नया वर्चुअल आईडी जनरेट करवाना चाहते हैं तो आप एसएमएस के जरिए करा सकते हैं। इसके लिए आपको RVID <आधार कार्ड का आखिरी 4 अंक> लिखकर 1947 पर भेजना होगा। इसके बाद आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर वर्चुअल आईडी भेज दिया जाएगा।

English summary
UIDAI, the company issuing Aadhaar card number has introduced a new service. UIDAI has named the service "Aadhar SMS Service". To use this service, users get a one time password i.e. OTP, which they can use to avail this service.

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more