जीएसटी सॉफ्टवेयर और लैपटॉप लेने से पहले ध्यान रखें ये बातें

Written By:

जल्दी ही जीएसटी लागू होने वाला है। इसका असर इकोनॉमी के अलावा फायनेंशियल ट्रांजेक्शन पर भी होगा। जीएसटी में रजिस्ट्रेशन से रिटर्न फॉर्म तक हर काम ऑनलाइन होगा। इसके लिए बाजार में जीएसटी सॉफ्टवेयर और लैपटॉप, नोटबुक भी आ चुके हैं।

जीएसटी सॉफ्टवेयर और लैपटॉप  लेने से पहले ध्यान रखें ये बातें

जीएसटी से सम्बंधित ट्रांजेक्शन को आसान करने के लिए लिनोवो ने इंटेल के साथ करार किया हैं। और नोटबुक, लैपटॉप की खास रेज मार्कीट बाजार में लांच की है। अगर आप भी ऐसे में कंप्यूटर या सॉफ्टरवेयर लेने का सोच रहे हैं, तो इन्हें खरीदने के पहले कुछ बातों का ध्यान रखें।

पढ़ें: कम कीमत में फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ खुद का स्मार्टफोन लॉन्च करेगी अमेजन

आप अगर चाहें तो जीएसटी लैपटॉप या नोटबुक को ले सकते हैं। अगर आप लैपटॉप ले रहे हैं, तो ये देख लें कि सॉफ्टेवयर का जीएसटी कम्पलाइअंट है या नहीं। लेकिन आपके पास पहले से ही लैपटॉप है, तो आप सिर्फ सॉफ्यवेयर भी खरीद सकते हैं। एचपी ने केपीएमजी के साथ मिलकर जीएसटी से जुड़ा खास महत्वपूर्ण इनवॉइस सॉफ्टवेयर बनाया है। ये आपको 18,000 से 35,000 में मिल जाएगा।



English summary
Lenovo has collaborated with Intel to make gst laptop and software.
Please Wait while comments are loading...
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
Opinion Poll

Social Counting