क्या आप जानते हैं क्‍या बला है ट्विटर?

Posted By:

क्या आप जानते हैं क्‍या बला है ट्विटर?

ट्विटर आज पूरी दुनिया में सबसे प्रचलित नाम है, आप में कई लोग इसे ट्विटर से जुड़े भी होगें मगर क्‍या आप जानते है कि आखिर ट्विटर है क्‍या बला  ,21 मार्च 2006 के दिन अमरीकी व्यापारी जैक डार्सी ने इंटरनेट पर ट्विटर की स्थापना की थी तब से लेकर आज तक ट्विटर ने कई बुनंदियों को छुआ।

टि्वटर एक माइक्रोब्‍लागिंग सेवा है जिसमें पूरी दुनिया के लोग ट्विट करके अपनी भावनाओं को व्‍यक्‍त करते हैं। इंटरनेट पर यह पूरी तरह से मुफ्त सेवा है। पहले ट्विटर को केवल कंप्‍यूटर में प्रयोग किया जा सकता था मगर अब इसे टैबलेट, स्‍मार्टफोन में भी डाउनलोड कर प्रयोग कर सकते हैं। हाल ही में ट्विटर ने अपने 6 वर्ष पूरे किए हैं।

आकड़ों के अनुसार 2011 में ट्विटर से करीब 300  मिलियन लोग जुड़े थे। ट्विटर को कुछ लोग इंटरनेट एसएमएस के नाम से भी पुकारते हैं, क्‍योंकि इसमें केवल 140 अक्षर लिखने की सीमा होती है। मार्च 2009 में नेलसन डॉट कॉम द्वारा किए गए एक सर्वे के अनुसार ट्विटर सबसे तेजी से बढ़ती हुई सोशल नेटवर्किंग साइट उभर कर सामने आई थी।

ट्विटर के बारे जानें  कुछ दिलचस्प तथ्य

  • ट्विटर के लिए 70000 से अधिक प्‍लेटफार्म पर अलग-अलग एप्लिकेशनें बन चुकीं हैं

  • मुम्बई में 26/11 के हमले के दौरान होटलों में फंसे लोगों ने हर 5 सेकन्ड में 80 ट्विट किए थे. इससे उनकी पहचान और राहत कार्यों में मदद मिली थी

  • 2008 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान रिपब्लिकन पार्टी ने डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवारों के जाली ट्विटर अकाउंट बनाए थे

  • जब ट्विटर की शुरुआत हुई थी तब इसमें 140 कैरेक्‍टर वर्ड लिमिट थी

  • 2006 में ट्विटर डॉट कॉम डोमेन नेम की कीमत 7,500 डॉलर (3,83481 रुपए) थी।
 

पुरुष रहें दूर ये है वुमेन सोशल नेटवर्किंग साइट ‘लूलूवाइस’

अब फेसबुक और ट्विटर से भी मिलेगी नौकरी

टि्वटर ने किया ब्लागिंग फर्म पोस्तेरस का अधिग्रहण

Please Wait while comments are loading...
  आधार को बैंक खाते या मोबाइल से लिंक करवे वक्त रखें ये सावधानी, वरना खाता हो जाएगा खाली
आधार को बैंक खाते या मोबाइल से लिंक करवे वक्त रखें ये सावधानी, वरना खाता हो जाएगा खाली
एयरटेल लेकर आया तगड़ा ऑफर, 7777 देकर पा सकते हैं आईफोन
एयरटेल लेकर आया तगड़ा ऑफर, 7777 देकर पा सकते हैं आईफोन
Opinion Poll

Social Counting