एंड्राइड ओरियो 8.0 में हैं ये 4 ख़ास सुरक्षा फीचर

By Anoop Kumar Singh

    गूगल ने हाल में अपना नया एंड्राइड वर्जन ओरियो लांच किया है। इस अपडेट में फोन की स्पीड और उसकी परफॉरमेंस पर सबसे ज्यादा फोकस किया गया है साथ ही कई नए फीचर्स भी जोड़े गये हैं। इसके अलावा ओरिया में कई ऐसे फीचर दिए गए हैं जो यूजर को ध्‍यान में रखकर बनाए गए हैं जैसे मल्‍टीि‍विंडो का फीचर जिसकी मदद से एक स्‍क्रीन में दो एप आराम से यूज कर सकते हैं। 

    इसके अलावा ओरियो 8.0 अपडेट में बैकग्राउंड में चलने वाली एक्टिविटी को कम करने का प्रयास किया गया है जिससे बैटरी और डाटा दोनों ही कम खर्च हों. इस अपडेट में सिक्‍योरिटी दिया है और इस लेख में हम आपको उन्हीं प्रमुख फीचर के बारे में बता रहे हैं।  

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्<200d>दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    डिसमिसिव सिस्टम अलर्ट ओवरलेज :

    आमतौर पर एंड्राइड में कोई भी एप किसी दूसरे एप के ऊपर पॉपअप्स बना सकता है. इसे पिक्चर इन पिक्चर कहा जाता है. हालांकि कुछ लोग इस तकनीक का इस्तेमाल फिरौती मांगने के लिए करने लगे हैं. एंड्राइड के इस वर्जन में इस सिक्यूरिटी का विशेष ध्यान रखा गया है और जैसे ही कोई एप ऐसा करेगा आपको इससे जुड़ा एक अलर्ट नोटिफिकेशन मिल जायेगा.

    अपने आप इनस्टॉल होने वाले एप से सुरक्षा :

    अभी तक बिना किसी परमिशन या वेरिफिकेशन के ही कुछ एप अपने आप इनस्टॉल हो जाते थे जो कि फोन के लिए खतरा उत्पन्न कर देते हैं. लेकिन एंड्राइड ओरियो में अब ऐसा नहीं हो सकेगा. उदहारण के तौर पर आप क्रोम में जाकर मैन्युअली किसी APK फाइल को इनस्टॉल कर सकते हैं लेकिन किसी और साईट से अगर कोई APK फाइल अपने आप इनस्टॉल होने वाला होगा तो सिस्टम उसे ब्लाक कर देगा.

    jio के 153 रुपए वाले प्लान को टक्कर देते हैं इन कंपनियों प्लान

    एंड्राइड वेरीफाइड बूट 2.0 :

    आमतौर पर आप जिसे एंड्राइड वेरीफाइड बूट कहते हैं वो एंड्राइड के 4.4 किट कैट वर्जन के साथ ही इन बिल्ट आ रहा है. हालांकि कुछ खतरनाक मेलवेयर ऐसे हैं जो रूट परमिशन के साथ खुद को छिपा ले जाते हैं और सिक्यूरिटी एप की पकड़ में नहीं आते हैं. ये फोन को बूट होने से रोक देते हैं. ओरियो 8.0 में एंड्राइड वेरीफाइड बूट 2.0 है जो इससे पूरी तरह सुरक्षा प्रदान करता है. इसकी मदद से ऑपरेटिंग सिस्टम को एक ख़ास हार्डवेयर के अंदर सुरक्षित रखा जा सकता है.

    पब्लिक वाई फाई से सुरक्षा :

    कभी भी अपने फोन को पब्लिक वाई फाई से कनेक्ट नहीं करना चाहिए यह खतरनाक हो सकता है. इस समस्या से निजात दिलाने के लिए ओरियो में एक ख़ास फीचर जोड़ा गया है जिसका नाम है वाई फाई असिस्टेंट, यह फोन को हाई क्वालिटी वाले नेटवर्क से जोड़ता है और वीपीएन की मदद से इसे सुरक्षित रखता है. लेकिन यह फीचर अभी सिर्फ प्रोजेक्ट फाई और नेक्सस या पिक्सल फोन में ही उपलब्ध है. ऐसी उम्मीद है कि आने वाले समय में यह ख़ास फीचर सभी ओरियो डिवाइस में उपलब्ध होगा.


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    Google officially rolled out the next flavor of Android under a cookie name Oreo. In this article, we have compiled a list of security reasons that are present in the Android 8.0 Oreo.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more