सैमसंग और एप्‍पल के आगे कमजोर पड़ा नोकिया

Posted By: Staff

सैमसंग और एप्‍पल के आगे कमजोर पड़ा नोकिया

एक समय था जब नोकिया का सस्‍ते हैंडसेट बाजार में एक अकेला नाम था मगर आज सैमसंग और एप्‍पल के बाद स्‍मार्टफोन बाजार में नोकिया तीसरे परयदान पर पहुंच चुकी है। कुछ समय पहले तक सस्ते मोबाइल हैंडसेटों में पिछड़ रही नोकिया ने एक बार फिर से इस बाजार में अपनी पकड़ बनाने की कोशिशें और तेज कर दी है। बाजार में इस समय सैमसंग से नोकिया को सबसे ज्‍यादा कड़ी टक्‍कर मिल रही है।

सैमसंग, एलजी जैसी बड़ी कंपनियों से मुकाबला करने के लिए नोकिया सस्‍ते हैंडसेट बाजार पर अपना ज्यादा ध्‍यान देगी। खासतौर से कंपनी का जोर हैंडसेटों में इंटरनेट की सुविधाएं बढ़ाने पर है। भारत में हर साल मोबाइल में इटनेट प्रयोग करने वालों की संख्‍या में काफी इजाफा हो रहा है। नोकिया की अभी भी देश के मोबाइल हैंडसेट बाजार में 39 फीसदी हिस्सेदारी है जिसे वह तेजी से बढ़ाना चाहती है। कंपनी एंट्री लेवल के जितने भी नए मॉडल बाजार में उतार रही है, उन सभी में इंटरनेट सुविधाओं का विस्तार कर रही है।

ऐसा करके कंपनी का लक्ष्य उन नए युवा ग्राहकों को आकर्षित करना है, जो महंगे स्मार्ट फोन नहीं खरीदना चाहते मगर उन्‍हें सुविधाएं स्‍मार्टफोन की तरह चाहिए। फिलहाल नोकिया की स्थिती काफी चिंताजनक है, एंड्राएड फोन के क्षेत्र में नोकिया अपने फोन में ज्‍यादातर सिम्‍बेयन प्‍लेटफार्म आपरेटिंग सिस्‍टम दे रही है। जबकि बाजार में आई फोन और विडों 7 फोन लांच हो चुके हैं।

नोकिया ने अपने सभी कम बजट के मॉडल सी 2-03, सी 2-06 और नोकिया सी 2-02 में ब्राउजिंग के लिए कई एप्लीकेशन दी हैं जो फास्‍ट नेट स्‍पीड प्रोवाइड करती हैं। इनमें से यात्रा ट्रैवल, बुक माइ शो, ईबे, ईएसपीएन क्रिकेट, न्यूज हंट और गणेशास्पीक कुछ प्रमुख एप्‍लीकेशन शामिल हैं। फिलहाल नोकिया युवा ग्राहकों को ध्‍यान में रखते हुए अपने सस्ते फोन में मैप और इंटरनेट सेवा को प्रमुखता दे रही है।

Please Wait while comments are loading...
मिशन 2019: 20 फीसदी गरीबों के लिए पीएम मोदी की 'सुपरस्‍कीम', जानें खास बातें
मिशन 2019: 20 फीसदी गरीबों के लिए पीएम मोदी की 'सुपरस्‍कीम', जानें खास बातें
एयरटेल लेकर आया तगड़ा ऑफर, 7777 देकर पा सकते हैं आईफोन
एयरटेल लेकर आया तगड़ा ऑफर, 7777 देकर पा सकते हैं आईफोन
Opinion Poll

Social Counting