बढ़ती महंगाई ने घटा दिए जीएसएम ग्राहक

Posted By: Staff

बढ़ती महंगाई ने घटा दिए जीएसएम ग्राहक

दूरसंचार क्षेत्र में महंगाई का असर दिखने लगा है एक तरफ जहां दूरसंचार कंपनिया अपनी कॉल दरों में बढोत्‍तरी कर रहीं है वहीं इसका असर ग्राहकों की घटती संख्‍या से लगाया जा जा सकता है। मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या में अगस्त माह के दौरान भी गिरावट दर्ज की गयी। अगस्त में देश की जीएसएम कंपनियों ने 53.3 लाख नये ग्राहक जोड़े हैं जबकि इससे पिछले माह 76.5 लाख नये जीएसएम मोबाइल ग्राहक बने थे।

अगस्त में महज 53.3 लाख नये जीएसएम मोबाइल ग्राहक बने अगस्त माह के अंत तक देश में कुल जीएसएम उपभोक्ताओं की संख्या 61.17 करोड़ पर पहुंच गयी। गौरतलब है कि यह लगातार चौथा माह है, जब दूरसंचार कंपनियों द्वारा नए ग्राहक जोड़ने की रफ्तार घटी है। अक्‍टूबर 2009 के बाद पहली बार इस साल मई में नए मोबाइल ग्राहक बनने वाले लोगों की तादाद एक करोड़ से नीचे रही जब जीएसएम कंपनियों ने 95.3 लाख नए ग्राहक बनाए।

जबकि जून में नए ग्राहकों की संख्या और घटकर महज 85.8 लाख रही। जून के अंत तक जीएसएम मोबाइल धारकों की कुल संख्या 59.87 करोड़ रही। जुलाई में जीएसएम कंपनियों ने 76.4 लाख नए ग्राहक बनाए जिससे इनकी कुल संख्या बढ़कर 60.64 करोड़ पर पहुंच गई। सेल्युलर आपरेटर एसोसिएशन आफ इंडिया सीओएआई द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार जीएसएम की सबसे बड़ी कंपनी भारती एयरटेल रही।

अगस्त में एयरटेल ने 11.5 लाख ग्राहक जोड़े, जिसके बाद इसके ग्राहकों की संख्या 17.184 करोड़ पर पहुंच गई। इसी प्रकार अगस्त में इसकी प्रतिद्वंदी कंपनी वोडाफोन एस्सार की जीएसएम बाजार हिस्सेदारी 23.56 फीसद पर पहुंच गयी। अगस्त में कंपनी ने 11.3 लाख नये ग्राहक जोड़े, जिसके बाद इसका उपभोक्ता आधार 14.41 करोड़ पर पहुंच गया।

अगस्त में आदित्य बिड़ला समूह की कंपनी आइडिया सेल्युलर ने कुल 23.3 लाख नये ग्राहक जोड़े। इसके बाद इसका उपभोक्ता आधार बढकर 9.84 करोड़ पर पहुंच गया। जबकि अगस्त तक एयरसेल का उपभोक्ता आधार बढ़कर 5.9 करोड़ पर पहुंच गया। अगस्त में एयरसेल ने कुल 6,02,312 नये ग्राहक बनाए।

Please Wait while comments are loading...
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
सामने आया 50 रुपए के नए नोट का फर्स्‍ट लुक, जानें इसकी खासियत
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
परिजनों ने छुपकर देखी शिक्षक की करतूत, कैसे मासूम को बना रहा था हवस का शिकार...
Opinion Poll

Social Counting