ब्रेकअप से बचाएगी स्मार्टफोन की ये एक सेटिंग

Posted By: Devesh Jha

    अगर आप स्मार्टफोन यूजर्स हैं, तो ऑटो-करेक्ट से होने वाली गड़बड़ियों के बारे में बहुत अच्छे से जानते होंगे। दरअसल मोबाइल में टाइपिंग करते हुए कई बार शब्दों की स्पेलिंग्स में गलतियां हो जाती है और ऑटोकरेक्ट उसे अपने हिसाब से करेक्ट कर देता है। 

    सबसे बड़ी मुश्किल तो तब हो जाती है, जब ऑटो-करेक्ट होने से शब्द या वाक्य अर्थ से अनर्थ में बदल जाता है औऱ उसे आप गलती से सेंड भी कर देते हैं। ऑटो-करेक्ट में बदले शब्दों का अर्थ रिसीवर गलत मतलब समझ लेते हैं। कई बार यूजर्स बड़ी मुश्किल में फंस जाते हैं और उनका ब्रेकअप भी होते-होते बचता है।

    ब्रेकअप से बचाएगी स्मार्टफोन की ये एक सेटिंग

    शर्मिंदगी से बचाएगी ये ट्रिक-

    ऑटो-करेक्ट की इन गलतियों की वजह से कई बार कई लोगों को भारी नुकसान भी झेलना पड़ जाता है, लेकिन अगर फोन में ऑटो-करेक्ट (autocorrrect) यानि स्वत: स्पेलिंग ठीक करने की सुविधा मौजूद हो तो नुकसान होने और दूसरों से सामने शर्मसार होने से बच जाते हैं। इन्हीं कारणों की वजह से मोबाइल में ऑटोकरेक्ट होना जरूरी होता है।

    पर्सनल डिक्सनरी का उपयोग करें- 

    मोबाइल में टाइपिंग के दौरान पसर्नल डिक्सनरी में शब्दावली को जोड़ने का विकल्प भी मौजूद होता है। इससे आप जो शब्द लिखना चाह रहे हैं उस शब्द की सही स्पेलिंग का विकल्प आपको स्क्रीन पर मिल जाएगा और आप सही शब्द लिख पाएंगे।

    आप जो शब्द टाइप कर रहे हैं, अगर उसे ऑटोकरेक्ट पहचान नहीं पाएगा तो उस शब्द के नीचे लाल रंग की लाइन आ जाएगी। यह गलत शब्द होने का संकेत होगा। अगर इस शब्द को आप

    पर्सनल डिक्सनरी में जोड़ना चाहते हैं तो लाल रंग से लाइन खिंचे हुए शब्द को डबल क्लिक करें और उसे पर्सनल डिक्सनरी में जोड़ दें।

    अगर आप तीसरे पक्ष का कीबोर्ड (Keyboard) इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसमें पर्सनल डिक्सनरी की सुविधा नहीं होगी। इस परिस्थिति में आपको पर्सनल डिक्सनरी को मैन्यूअल रूप से जोड़ना होगा।

    किसी भी भाषा को Hindi में कैसे बदलें - Gizbot

    इसके लिए नीचे लिखे स्टेप को फॉलो करें-

    1. सेटिंग में जाएं ->

    2. भाषा और इनपुट (Language and Input) का चयन करें ->

    3. अब पर्सनल डिक्सनरी (Personal Dictionary) का चयन करें और स्क्रीन पर मौजूद प्लस (+) के साइन को क्लिक करें।

    उपयुक्त प्रक्रिया को पूरा करने के बाद अब आप गलत शब्द को पसर्नल डिक्सनरी में जोड़ सकते हैं जिससे उस शब्द की सही स्पेलिंग आपको मिल जाएगी।

    आपको बता दें कि इस फीजर्स का उपयोग हमेशा करने की भी कोई जरूरत नहीं है। अगर आपको लगता है कि आपको ऑटोकरेक्ट फीचर्स की जरूरत नहीं है और तेज टाइपिंग स्पीड से सही स्पेलिंग लिख सकते हैं तो आप इस फीजर को बंद भी कर सकते हैं।

    इस सुविधा को बंद करने के लिए सामान प्रक्रिया को फॉलो करने की जरूरत होती है।

    ऑटोकरेक्ट फीचर को बंद करने के लिए:-

    1. सेटिंग में जाएं ->

    2. भाषा और इनपुट (Language and Input) का चयन करें ->

    3. अब गूगल कुंजीपटल (Google Keyboard) को चुने और फिर टेक्सट करेक्शन (Text Correction) का चयन करें ->

    4. ऑकोकरेक्ट (Autocorrect) को बंद करें।

    इसी सामान प्रक्रिया से आप ऑटो करेक्शन सुविधा को दोबारा शुरू भी कर सकते हैं। इस सुविधा के जरिए आपको शब्दों का सुझाव भी मिलेगा। जो शब्द आप लिखना चाह रहे हैं उसी शब्द की शैली को पढ़कर आपको सामान शब्दों का विकल्प दिया जाएगा। इन विकल्पों में से आप उचित विकल्प चुनकर सही शब्द लिख सकेंगे।

    English summary
    Autocorrect feature is a life savior for many. We all know the mistake that we make every once in a while typing, if not Autocorrect who will correct those spelling mistakes.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more